S M L

NEWS18 RISING INDIA : पद्मावत के वक्त जो कहना चाहा, वो बोलने नहीं दिया गया - रणवीर सिंह

रणवीर सिंह ने बताया कि कैसे उन्होंने बॉलीवुड में अपनी एक खास जगह बना ली है

Updated On: Mar 17, 2018 04:53 PM IST

Hemant R Sharma Hemant R Sharma
कंसल्टेंट एंटरटेनमेंट एडिटर, फ़र्स्टपोस्ट हिंदी

0
NEWS18 RISING INDIA : पद्मावत के वक्त जो कहना चाहा, वो बोलने नहीं दिया गया - रणवीर सिंह

दिल्ली में चल रहे  न्यूज 18 इंडिया के कार्यक्रम राइजिंग इंडिया में बोलते हुए बॉलीवुड सुपर स्टार रणवीर सिंह ने आज अपना दिल खोलकर रख दिया. राजीव मसंद से बात करने से पहले रणवीर ने अपने चिर परिचित बिंदास स्टाइल में स्टेज पर एंट्री ली. जिसे आप इस क्लिप में देख सकते हैं.

सवाल जवाब का दौर शुरू होते ही रणवीर ने बताया कि पद्मावत की रिलीज के वक्त वो जो कुछ भी बोलना चाहते थे, फिल्म के मेकर्स ने उन्हें बोलने नहीं दिया. रणवीर ने साफ कहा कि पद्मावत का पूरा विवाद बहुत परेशान करने वाला था. मेरे हाथ में कुछ नहीं था. हर चीज़ मेरी पहुंच से बाहर थी. मैं कुछ कहना चाहता था लेकिन मैं बोल नहीं सकता था.

रणवीर सिंह ने ये भी बताया कि कैसे उन्होंने बॉलीवुड में जगह बनाने के लिए 3 साल का स्ट्रगल किया. लोग उन्हें कहते थे कि वो बाहरी आदमी हैं इसलिए उन्हें बॉलीवुड में बड़ा मौका नहीं मिलेगा. लेकिन यशराज की फिल्म बैंड बाजा बारात से अपना करियर शुरू करने वाले रणवीर ने जल्द ही साबित कर दिया कि वो बाहरी जरूर थे लेकिन जिंदगी ने उन्हें बडे़ मौके दिए. जिन्हें उन्होंने अपनी पूरी मेहनत देकर भुनाया.

c935dcfa526e6259cfeb62d514628729

अपने हर समय दमकते रहने के राज के बारे में उन्होंने बताया कि वो हर दिन को आखिरी दिन समझकर जीते हैं "मैं हर दिन जब सोकर उठता हूं तो लगता है जैसे मैं किसी सपने को जी रहा हूं. जब कोई फिल्म अच्छा करती है तो उससे ताकत मिलती है".

आए दिन फैंस के साथ उनकी सेल्फीज पर रणवीर ने खुलासा किया कि मुझे लोगों से मिलने में मजा आता है. मैं अभी भी ये विश्वास नहीं कर पाता हूं कि मैं फेमस हूं. लोग मुझे देख कर एक्साइटेड होते हैं. मैं लोगों को देखकर एक्साइटेड होता हूं.

"मैं भीड़ में देखकर बता सकता हूं कि कौन असली फैन है और कौन माहौल खराब करने के लिए आया है. एक बार जब मैं वॉशरूम में था तो एक आदमी सेल्फी लेने के लिए मेरे पास आ गया था".

ranveer

रणवीर से साफ किया कि पद्मावत में अलाउद्दीन खिलजी का किरदार उनके लिए बेहद चुनौती भरा रहा था. खिलजी बनने के लिए मैंने अपने अंदर का सारा कचरा जमाकर उसे जलाया. खिलजी के रोल के लिए मुझे काफी वजन बढ़ाना था. ये मैं पहले भी कर चुका हूं. इस रोल के मेकअप में 2 घंटे लगते थे, ये काफी थकाने वाला अनुभव था. इससे भी मुश्किल इस रोल के लिए मानसिक रूप से तैयार होना था.

रणवीर का कहना था कि फिल्म के बारे में बेफिजूल का बवाल मचाया गया. दर्शकों को ये फिल्म इतनी पसंद आई कि 300 करोड़ रुपए का रिकॉर्ड बिजनेस इस फिल्म ने किया. रिलीज के वक्त वो इस फिल्म के बारे में काफी कुछ बोलना चाहते थे लेकिन मेकर्स ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया था. क्योंकि करणी सेना का सारा गुस्सा अलाउद्दीन खिलजी पर ही था. वो कुछ भी बोलते तो फिल्म जैसी भी रिलीज हुई उसे वैसा भी रिलीज होने नहीं दिया जाता.

यंग इंडिया की पसंद रणवीर ने स्टेज पर यंगस्टर्स के साथ डांस करके माहौल को रंगीन बना दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi