S M L

राखी पर फिर लटकी गिरफ्तारी की तलवार

मजिस्ट्रेट विशव गुप्ता ने राखी के खिलाफ वारंट जारी किया है, क्योंकि वह पहले सुनवाई में नहीं आईं

Updated On: Jun 02, 2017 10:32 PM IST

Rajni Ashish

0
राखी पर फिर लटकी गिरफ्तारी की तलवार

राखी सावंत ऋषि वाल्मीकि पर दिए अपने एक अप्पतिजनक बयान की वजह से एक बार फिर से मुश्किल में घिर गयीं हैं.

राखी सावंत के खिलाफ लुधियाना कोर्ट ने एक बार फिर गैर-जमानती वारंट जारी किया है. राखी पर ऋषि वाल्मिकी पर अपमानजनक टिप्पणी करने का और वाल्मीकि समाज के लोगो की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप है.

इसके पहले भी राखी के खिलाफ अरेस्ट वारंट जारी हुआ था

ये दूसरी बार है जब राखी पर वाल्मिकी समुदाय की भावनाओं को आहत करने के लिए अरेस्ट वारंट जारी किया गया है. इसके पहले 9 मार्च को कोर्ट में पेश नहीं होने के कारण लुधियाना कोर्ट ने ही राखी के खिलाफ अरेस्ट वारंट जारी किया था.

राखी पर फिर लटकी गिरफ्तारी की तलवार

दरअसल पिछले  साल राखी सावंत ने एक निजी टीवी चैनल के कार्यक्रम के दौरान सिंगर मीका सिंह और महर्षि वाल्मिकी की तुलना कर दी थी. इससे वाल्मिकी समुदाय के लोग राखी का विरोध करने लगे थे.राखी सावंत द्वारा दिए गए कॉमेंट ने पूरे देश में विवाद पैदा कर दिया था और इसके खिलाफ लुधियाना में लगातार प्रोटेस्ट हो रहे थे. न्यायिक मजिस्ट्रेट विशव गुप्ता ने राखी के खिलाफ वारंट जारी किया है, क्योंकि वह सुनवाई में नहीं आईं. उन्होंने लुधियाना के पुलिस आयुक्त को यह सुनिश्चित करने का आदेश दिया कि वह सात जुलाई को अदालत में उपस्थित हों.

राखी की तरफ से पेश वकील रजनीश लखनपाल ने अदालत को बताया कि उनकी मुवक्किल ने इस संबंध में नहीं बोला था और ना ही उनका इरादा किसी समुदाय विशेष की भावनाओं  को ठेस पहुंचाने का था. उन्होंने कहा कि इसके अलावा उन्होंने वाल्मीकि समुदाय से 'बिना शर्त माफी' भी मांग ली थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi