S M L

'पहरेदार पिया की' में सुहागरात और हनीमून सीन दिखाए जाने पर प्रोड्यूसर ने दिया बयान, कहा कुछ भी गलत नहीं दिखाया

'पहरेदार पिया की' की पूरी कंट्रोवसी पर शो के बचाव में खुलकर सामने आये प्रोड्यूसर्स ने रखी अपनी बात, कहा नहीं करेंगे स्टोरीलाइन चेंज

Rajni Ashish Updated On: Aug 15, 2017 02:54 PM IST

0
'पहरेदार पिया की' में सुहागरात और हनीमून सीन दिखाए जाने पर प्रोड्यूसर ने दिया बयान, कहा कुछ भी गलत नहीं दिखाया

सोनी टीवी के कॉन्ट्रोवर्सीयल शो 'पहरेदार पिया की' को बैन करने की मांग थमने का नाम नहीं ले रही.'पहरेदार पिया की' के कंटेंट के खिलाफ दर्शकों का आक्रोश बढ़ता जा रहा है. पहरेदार पिया की में 9 साल के बच्चे और 18 साल की लड़की की शादी दिखाये जाने की पहले से ही जबरदस्त आलोचना हो रही थी. लेकिन फिर सुहागरात और हनीमून वाले सीन के शूट किये जाने की खबर से दर्शकों के एक वर्ग के सब्र का बांध टूट गया. इसके बाद 'पहरेदार पिया की' को बंद कराने के लिए change.org पर एक कैंपेन शुरू की गई जिसमें 1 लाख से भी ज्यादा दर्शकों ने इस शो को बंद करने के खिलाफ स्मृति ईरानी को एड्रेस करते हुए शो को बंद कराने के लिए पिटीशन को साइन किया.

Pehredaar-Piya-Ki-actress-Tejaswi-Prakash-aka-Diya-and-Child-Actor-Afaan-Khan-images-photos-hd

smriti irani

'पहरेदार पिया की' के खिलाफ चलाये जा रहे मुहीम पर सूचना और प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने एक्शन लेते हुए ब्रॉडकास्ट‍िंग कंटेंट कप्लेंट्स काउंसिल (BCCC) को पत्र लिखा है. स्मृति ईरानी ने BCCC को शो का कंटेंट रिव्यू करने के साथ ही तुरंत एक्शन लेने के लिए कहा है.

शो के प्रोड्यूसर्स आये शो के बचाव में

Sumeet-And-Shashi-Mittal-Producers-of-Pehredaar-Piya-Ki-1-920x518

'पहरेदार पिया की' के कांसेप्ट पर हो रहे कंट्रोवसी पर अब प्रोडयूर्स शशि और सुमीत मित्तल सामने आये हैं और शो के कांसेप्ट का बचाव करते हुए एक प्रेस कांफ्रेंस कर इन दोनों ने अपनी बात रखी. शो के मेकर्स और प्रोड्यूसर्स शशि और सुमित मित्तल ने मीडिया से मुलाकात की और कई तीखे सवालों के जवाब दिये.

नहीं मिला स्मृति ईरानी के मंत्रालय से कोई नोटिस

smriti

शशी से जब पूछा गया कि क्या उन्हें सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से कोई नोटिस मिला है तो उन्होंने कहा, "नहीं, हमें अधिकारियों से कोई नोटिस नहीं मिला है और अगर आया भी होगा या आएगा तो हम स्पष्टीकरण देने के लिए तैयार हैं क्योंकि हम जानते हैं कि हमने कहानी में कुछ गलत नहीं दिखाया है. हम सबसे यह कहना चाहते हैं कि शो को देखे बिना जज न करें. मुझे समझ नहीं आता कि किस वजह से लोग विवाद कर रहे हैं. जो लोग इसे गलत ठहरा रहे हैं, उन्होंने शो देखा ही नहीं. बस प्रोमो और अफवाह पर रिएक्ट कर रहे हैं"

कांसेप्ट नहीं बदला जायेगा

pehredaar-a

यह पूछे जाने पर कि अगर 'प्रसारण सामग्री शिकायत परिषद' (बीसीसीसी) निर्माताओं से शो के कांसेप्ट में बदलाव लाने के लिए कहता है तो वह ऐसा करेंगे, इस पर शशि और सुमित ने साफ कहा कि ' जब हम कुछ गलत दिखा ही नहीं रहे तो शो का कांसेप्ट बदलने की बात कहां से उठती है.

सुमित ने आगे कहा कि 'हम बदलाव करने के बजाय उनसे कोई भी फैसला लेने से पहले कहानी को जानने का अनुरोध करेंगे. अभी तक हमारे शो के कांसेप्ट में बदलाव लाने की कोई योजना नहीं है'.

बिना शो देखें ही लोगों ने की बंद करने की मांग

शो के मेकर्स ने प्रेस कांफ्रेंस में 'पहरेदार पिया की' के दो एपिसोड भी दिखाए कि किन हालातों में दिया (18 साल ) की शादी रतन (9 साल ) से हुई है. शशि के मुताबिक, कई लोगों ने शो को बिना देखे इस पर प्रतिबंध लगाने की बात की है. उन्होंने बताया कि, 'लोग बिना शो देखे ही इसे विवादों से जोड़ रहे हैं. सिर्फ अफवाह और खबरों को पढ़कर लोग शो के कांसेप्ट पर चर्चा कर रहे हैं और इसकी बुराई कर रहे हैं'.

लोगों के मैसेजेस आ रहे हैं

शशि ने आगे बताया कि, 'कई ऐसे लोग जिन्होंने सिर्फ अफवाहों और खबरों के बिनाह पर शो के खिलाफ मुहीम का साथ दिया था, उन लोगों ने शो को देखा और उसके बाद मुझे मैसेज कर के बताया कि आपके शो में कुछ भी गलत नहीं दिखाया गया है'. इसलिए मैं उन सब लोगों से अपील करती हूं जो इस शो के खिलाफ खड़े हैं. प्लीज एक बार जाकर शो देखिये और फिर अगर आपको कोई आपत्ति है तो हमारे पास आइये, आप बिना शो देखे ही इसकी बुराई मत करिए'.

हनीमून सीक्वेंस को बताया अफवाह

सुमीत ने सवांददाताओं से बात करते हुए कहा कि उन्हें न्यूज चैनल्स और समाचार पत्रों के जरिये पता चला है कि उनके शो में 9 साल के रतन और 18 साल की दिया के बीच लंदन में हनीमून सीन शूट हो रहा है. सुमीत कहते हैं कि, 'मैंने जब हनीमून सीक्वेंस के बारे में सुना, तो मैं शॉक्ड रह गया. लेकिन ऐसा कुछ हमारे प्लॉट में है ही नहीं. टेलीकास्ट हो चुके एपिसोड्स में सही फैक्ट्स दिए गए हैं. जरूरी है कि लोग पहले उन्हें देखें, फिर कमेंट करें"

सुहागरात सीन पर भी दी सफाई

 

Pehredaar-Piya-Ki Pehredaar-Piya-Ki-Youtube-Image-for-InUth

शो में दिया और रतन के बीच सुहागरात वाला सीन शूट किये जाने पर खूब विवाद हुआ. अब शो की प्रोड्यूसर शशि मित्तल ने सफाई देते हुए कहा कि 'हम ट्रेडिशनल बैकग्राउंड से आते हैं. हम खुद अपने शोज में कॉन्ट्रोवर्शियल सीन क्यों रखेंगे ? शो में जो सीन रखा गया है उसमें कुछ भी गलत नहीं है. परिवार के लोग दिया और रतन को जानबूझकर परेशान करने और उनका मजाक बनाने के लिए उनके कमरे को सजाकर उन्हें सुहागरात मनाने और फिर हनीमून मनाने जैसे असहज माहौल में डालते हैं. वैसे भी ये सब चीजें हमारे ट्रेडिशन का हिस्सा हैं. परिवार के बच्चे शादियों में जाते हैं तो पूछते है कि शादी में एक कमरा अलग क्यों सजाया जाता है. उनके सामने भी तो सुहागरात का कमरा सजाया जाता है. ऐसा नहीं है कि उन्हें वह डिटेल में समझाने की जरूरत पड़े. सीरियल में भी हमने सिर्फ बच्चे की मासूमियत को दिखाने की कोशिश की है. दीया नफरत करने वालों के निशाने पर रहती है. क्योंकि वह पहरेदार बनी है. हम शो को बच्चों की तरह ही दिखा रहे हैं. रतन दीया को कहता है कि हनीमून पर जाना चाहिए। लेकिन दीया जानती है कि कौन है, जो रतन का दिमाग खराब कर रहा है. कौन है, जो उसे हनीमून पर जाने की सलाह दे रहा है. होनेमून शब्द भी आजकल एकदम कॉमन है, इसमें ऐसा कुछ नहीं है कि जिसे बाचों ने कभी सुना ना हो.

करण वाही के कमेंट पर

A post shared by Karan Wahi (@imkaranwahi) on

एक्टर करण वाही ने सबसे पहले 'पहरेदार पिया की' की सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखकर आलोचना की थी. जिसके बाद शो को लेकर इतना विवाद बढ़ गया.करण वाही ने फेसबुक पर 'पहरेदार पिया की' के कंटेंट को आड़े हाथों लेते हुए एक पोस्ट शेयर किया था. हालांकि बाद ट्रोल किये जाने पर करण ने अपने पोस्ट को डिलीट कर दिया था.

करण ने फेसबुक पर लिखा-

'प्रिय निर्माता और चैनल .. मैं समझ सकता हूं कि हम 'हाउ आई मेट योर मदर' और 'फ्रेंड्स' जैसे शोज नहीं बना सकते और ईमानदारी से मैं उम्मीद भी नहीं करता. लेकिन भगवान के लिए और इस कारण कि हम सब इस इंडस्ट्री में हैं, प्लीज मुझे टीआरपी देने वाले कंटेंट के नाम पर ये मूर्खता मत बेचिये. क्योंकि ईमानदारी से इसे कोई भी नहीं देख रहा है. दूसरे लोगों की बात को छोड़ दें, मुझे लगता है कि हमारी बिरादरी के लोग ही इस शो को पसंद नहीं कर रहे हैं. हर कोई जो इस शो का हिस्सा है उसके लिए मैं अच्छा चाहता हूं और उन सब के लिए अच्छी तरह से प्रार्थना करता हूं. लेकिन हमें कोई ऑप्शन ना होने पर सिर्फ काम करने के लिए किसी शो से नहीं जुड़ना चाहिए बल्कि उस काम को एन्जॉय करना चाहिए. मैं ये सब अभिमान से नहीं बोल रहा हूं, लेकिन हम इससे बेहतर शो बना सकते हैं.

इसे लेकर सुमीत ने कहा, "करण न्यूयॉर्क में था. जिस तरह से उसने रिएक्ट किया, वह सही नहीं है. उसने शो नहीं देखा, बस कमेंट कर दिया. हम करण जैसे सेलेब्स से उम्मीद करते हैं कि वो जिम्मेदारी के साथ किसी भी मुद्दे पर अपनी बात रखें. मैं करण से स्टेटमेंट मांगूंगा कि उसने किस आधार पर ऐसा बयान दिया. ऑफिस में किसी से कहूंगा कि वह उसके संपर्क में रहे, और करण अगर कोई प्रूफ देते हैं शो के कांसेप्ट से रिलेटेड तो आप लोगों से जरूर साझा करूंगा".

बाल विवाह के सवाल पर

मेकर्स के मुताबिक, शो की कहानी बाल विवाह पर बेस्ड बिल्कुल नहीं है. वे कहते हैं, "प्लीज पहले स्टोरी देखिए. यह एक राजपूत लड़की की कहानी है, जिसने अपना कोई भी डिसीजन मां-बाप से पूछे बगैर नहीं लिया. एक आदमी ने उसकी जान बचाई है, जब वह मर रहा होता है तो अपने बच्चे की रक्षा की जिम्मेदारी उस राजपूत लड़की को सौंपता है. वह उसे अपने बेटे की पत्नी बनने को कहता है, ताकि उसकी रक्षा हो सके. अगर वह जिंदा रहता तो वो उससे बहस कर सकती थी. हीरोइन होने के नाते उसके ऊपर रतन की जिम्मेदारी है. बिना कुछ जाने वह शादी के लिए तैयार हो जाती है क्योंकि ये इंसान जो मर रहा है उसने ही इस लड़की कि बचपन में जान बचायी थी. शादी का उद्देश्य सिर्फ 9 साल के रतन की रक्षा है. जिन लोगों ने शो देखा है, वे इसे समझते हैं'.

'गेम और थ्रोंस' से नहीं है कोई लेना-देना

7B1_tejaswiafaan

कुछ दिनों पहले शो की मुख्य अदाकारा दिया का रोल निभा रही तेजस्वी प्रकाश ने शो के कांसेप्ट को सपोर्ट करते हुए पॉपुलर इंटरनेशनल वेब सीरीज 'गेम और थ्रोंस' से 'पहरेदार पिया की' के कांसेप्ट की तुलना करते हुए कहा कि उस सीरियल में भी इसी तरह के रिश्ते दिखाए गए हैं लेकिन लोगों को वो पसंद है. अगर 'पहरेदार पिया की' में यही चीज दिखाई जाती है तो ये मुद्दा बन जाता है.' अब मेकर्स ने यहां यह भी स्पष्ट किया है कि शो 'गेम और थ्रोंस' पर आधारित नहीं है और शो में उससे कोई भी लेना देना नहीं है. तेजस्वी का जो बयान है ये उनका पर्सनल व्यू है.

क्या कॉन्ट्रोवर्सी के कारण बढ़ रही TRP?

शो के साथ कंट्रोवर्सी जुड़ने की वजह से इसकी टीआरपी बढ़ने के सवाल पर सुमीत मित्तल ने कहा कि "मुझे नहीं लगता कि जिन्होंने शो देखा है, वे कॉन्ट्रोवर्सी कर रहे हैं. मुझे नहीं पता कि कॉन्ट्रोवर्सी की वजह से शो को TRP मिल रही है? अगर कॉन्ट्रोवर्सी की वजह से TRP मिल रही है तो हम फिर प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे."

बच्चों पर पड़ रहे कुप्रभाव पर

शशि ने साफ कहा कि ' इस शो में ऐसा कुछ भी नहीं दिखाया गया है जो बच्चों पर गलत असर डालेगा. मेरी भी 9 साल की बच्ची है हम खुद एक जिम्मेदार पेरेंट्स हैं और हमें पता है कि बच्चों पर कैसे शोज बुरा असर डाल सकते हैं. आजकल के बच्चे बेहद मैच्योर हैं'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Social Media Star में इस बार Rajkumar Rao और Bhuvan Bam

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi