S M L

संगीत निर्देशक के रूप में मेरी मराठी फिल्म इंडस्ट्री में शुरुआत हुई है-अद्वैत नेमलेकर

उम्मीद से ज्यादा इस बात की खुशी है कि इस तरह की एक प्रतिभाशाली टीम के साथ काम करने का मौका मिला

Updated On: Dec 01, 2018 09:59 AM IST

Arbind Verma

0
संगीत निर्देशक के रूप में मेरी मराठी फिल्म इंडस्ट्री में शुरुआत हुई है-अद्वैत नेमलेकर

मराठी फिल्मों में धीरे-धीरे अपनी पकड़ मजबूत करते जा रहे नवोदित संगीतकार अद्वैत नेमलेकर ने कुछ ऐसे गाने दिए जो काफी सुने गए. लोगों ने इसे बेहद पसंद किया और इसकी सराहना भी की लेकिन इन दिनों वो क्या कुछ कर रहे हैं और उनके आगे के क्या प्लान्स हैं इस पर हुई बातचीत के कुछ अंश हम आपके साथ साझा कर रहे हैं.

आपकी आने वाली फिल्म, नाल सैराट और फैंड्री की टीम के साथ है जो सुपरहिट फिल्मों में है, तो क्या आपकी उम्मीदें बहुत ज्यादा थीं?आपका क्या अनुभव था इस फिल्म पर काम करते वक्त?

-बेशक हां, उम्मीद से ज्यादा इस बात की खुशी है कि इस तरह की एक प्रतिभाशाली टीम के साथ काम करने का मौका मिला. इसके अलावा, उन्होंने मुझे प्रेरित किया और एक दृष्टिकोण भी दिया.

ट्रेलर ने 5 मिलियन व्यूज पार कर लिए हैं और ये बहुत ही आशाजनक लगता है, तो क्या आप इस फिल्म को अपने करियर में सफलता के रूप में देख रहे हैं?

-ट्रेलर ने 2 मिलियन व्यूज पार कर लिए हैं. इस फिल्म ने, संगीत निर्देशक के रूप में मेरी मराठी फिल्म उद्योग में शुरुआत की है. इतने बेहतर परिचय की कामना भी नहीं कर सकता था जो नागराज सर और सुधाकर के जरिए सुझाए गए हैं.

फिल्म से आपका पसंदीदा ट्रैक कौन सा है?

-मेरा पसंदीदा साउंडट्रैक "सुमी" है, जो प्रतिश्रवण गीत भी बन गया है और जल्द ही रिलीज होगा.

आपने बॉलीवुड के निर्देशक-अभिनेता देव और शशांक घोष के साथ काम किया है. तो क्या इस कार्ड पर बॉलीवुड जाने की शुरुआत है?

 -बेशक! मैं बॉलीवुड देखकर ही वयस्क हुआ हूं, और ये निश्चित रूप से किसी भी संगीत निर्देशक के लिए व्यापक अपील करने के लिए सर्वश्रेष्ठ स्थान है.

जहां तक गायकों की बात है, आपको म्यूजिक इंडस्ट्री के सर्वश्रेष्ठ-शंकर महादेवन, सुखविंदर सिंह, जावेद अली आदि के साथ काम करने का मौका मिला है? तो क्या गायकों को संभालना मुश्किल हो जाता है जब वो लोकप्रिय और स्थापित नाम होते हैं?

-मेरा मानना है कि सम्मान देने से आपको सम्मान मिलता है, और ये लोग इसके बारे में ऐसे ही हो जाते हैं. अगर आपने कुछ सुन्दर और आकर्षक बना दिया है तो वो आपकी परियोजना को अपनी आवाज खुशी से देंगे. उनकी प्रतिभाओं के अलावा, उनके अनुभव और विनम्र प्रकृति ने उन्हें आज एक सफल इंसान बनाया है.

क्या आपको कभी किसी विशेष गायक के साथ काम करना मुश्किल अनुभव रहा?

-मेरे पास गायक हैं जो रिकॉर्डिंग करने के लिए नहीं आए हैं,  प्रसिद्ध लोग ऐसा नहीं करेंगे क्योंकि वो जानते हैं कि ये कितना मूल्यवान हैं, और गायक भी एक मनुष्य ही हैं और हर गायक अपने अनुभव और प्रतिभा के साथ आता है.

आपको किसके साथ काम करके सबसे ज्यादा रचनात्मक संतुष्टि हुई है?

-जिस परियोजना पर मैं शुरुआत करता हूं, वो मुझे रचनात्मक संतुष्टि देता है इसलिए मैं सुनिश्चित करता हूं कि मैं कुछ ऐसा चुनूं जिससे मैं स्वयं को चुनौती दे सकूं.

दोनों टी for ताजमहल और काफिरॉन की नमाज ko व्यावसायिक सफलता नहीं मिली, क्या आपको बॉलीवुड के सम्बंध में अपने करियर के शुरुआती दिनों में इन परियोजनाओं का हिस्सा बनने पर खेद है?

-बिलकुल नहीं! टी फॉर ताजमहल अभी तक रिलीज़ नहीं हुआ है लेकिन अंतरराष्ट्रीय त्यौहार सर्किट में सफल रहा है. काफ़िरॉन की नामाज ने भी स्वतंत्र दृश्य में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है और शायद सबसे अधिक चर्चित फिल्मों में से एक है. इसने तकरीबन 7,00,000 व्यूज किए हैं.

Advait

बॉलीवुड में आपका पसंदीदा संगीत निर्देशक कौन है और क्यों?

-नाम तोह बहुत सारे हैं लेकिन मौजूदा संगीत निर्देशकों में से मैं रहमान सर, शंकर एहसान लॉय और अमित त्रिवेदी को उनकी बुद्धिमान व्यवस्था के लिए सुनना पसंद करता हूं.

अगर आपको पुराने बॉलीवुड ट्रैक को फिर से बनाने का मौका दिया जाए, तो वो कौन सा होगा और क्यों?

-मैं व्यक्तिगत रूप से किसी बनावट के खिलाफ हूं, लेकिन अगर बंदूक की नोक पर हो, तो उसकी असाधारण संरचना और व्यवस्था की वजह से "लग जा गले" होगा. मुझे अनुभव के लिए बिल्कुल वैसे ही लिखना और फिर से बनाना पसंद है!

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi