S M L

रजनीकांत के खिलाफ आपराधिक मानहानि की कार्यवाही को मद्रास हाई कोर्ट ने किया निरस्त

ये कार्यवाही एक फिल्म फाइनेंसर की तरफ से शुरू किया गया था

Updated On: Dec 20, 2018 11:47 AM IST

Arbind Verma

0
रजनीकांत के खिलाफ आपराधिक मानहानि की कार्यवाही को मद्रास हाई कोर्ट ने किया निरस्त

साउथ के सुपरस्टार रजनीकांत की हालिया रिलीज्ड फिल्म ‘2.0’ बॉक्स ऑफिस पर अब तक धमाल मचा रही है लेकिन एक चौंकाने वाली खबर रजनीकांत से जुड़ी हुई सामने आ रही है. मद्रास हाई कोर्ट ने मंगलवार को सुपरस्टार रजनीकांत के खिलाफ आपराधिक मानहानि की कार्यवाही को खत्म कर दिया है. ये कार्यवाही एक फिल्म फाइनेंसर की तरफ से शुरू किया गया था.

रजनीकांत के खिलाफ खत्म हुई कार्यवाही

रजनीकांत के खिलाफ आपराधिक मानहानि की कार्यवाही चल रही थी जिसे मद्रास हाई कोर्ट ने खत्म कर दिया है. कोर्ट ने पहले रजनीकांत के खिलाफ फाइनेंसर की तरफ से दायर किए गए दीवानी मुकदमे को खारिज करते हुए 25 हजार रुपए का जुर्माना लगाया था और कहा था कि ये सस्ती लोकप्रियता हासिल करने का हथकंडा और मशहूर शख्स को परेशान करने के लिए कानूनी प्रक्रिया का दुरुपयोग करने के सिवाय कुछ नहीं है.

65 लाख रुपए उधार का लगाया था आरोप

बता दें कि, फाइनेंसर मुकुचंद बोथरा ने ये आरोप लगाया था कि रजनीकांत की बेटी के ससुर कस्तूरी राजा ने उनसे 65 लाख रुपए उधार लिए थे और आश्वासन दिया था कि अगर वो रुपए नहीं चुका पाए तो अबिनेता इस रकम की अदायगी करेंगे. बोथरा ने एक मजिस्ट्रेट कोर्ट में आपराधिक मानहानि की शिकायत दायर कर दावा किया कि रजनीकांत ने दीवानी मुकदमे के बारे में कहा था कि ये सिर्फ उनसे रुपए ऐंठने और उनका नाम बदनाम करने के लिए है. बोथरा ने इसे अपनी मानहानि बताया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi