S M L

पद्मावत छोड़िए, दुनिया के 50 देशों में बैन हैं ये फिल्में, कुछ तो रिलीज भी नहीं हुई

पद्मावत ही नहीं ऐसी कई फिल्में हैं जो सिर्फ अफवाहों के चलते बैन हो गईं

FP Staff Updated On: Jan 24, 2018 08:38 AM IST

0
पद्मावत छोड़िए, दुनिया के 50 देशों में बैन हैं ये फिल्में, कुछ तो रिलीज भी नहीं हुई

पद्मावत के रिलीज़ होने के पक्ष में सारी चीज़ें हैं. इसके बाद भी लोग इसका विरोध कर रहे हैं. करणी सेना इसको देखने का मन बनाने वालों को धमका रही है. औरतें जौहर करने की बात कर रही हैं.

कैनिबल होलोकास्ट

51PT252DC1L._SY445_

रणवीर और दीपिका के एक काल्पनिक सीन की अफवाह से पद्मावत का विवाद शुरू हुआ. कैनिबल होलोकास्ट को एक अफवाह के चलते 50 देशों में बैन कर दिया गया. बैन होने वाली फिल्मों में इसे पहले नंबर पर रखा जाता है.

फिल्म की कहानी थी कि एक प्रोफेसर अमेजन के जंगलों में खोए हुए डॉक्युमेंट्री क्रू को तलाशने जाता है. वहां उसे फिल्म रील मिलती है. रील में आदमियों को खाने वाले आदिवासियों की फुटेज होती है. अफवाह फैल गई कि डायरेक्टर ने शूटिंग के लिए असली ऐक्टर्स को मार डाला. कई मुकदमे हो गए. सच में ऐसा कुछ नहीं था. मगर फिल्म बेहद हिंसक थी. शूटिंग के लिए कई जानवरों को मार डाला गया था. फिल्म आज भी कई जगह बैन है.

द इंटरव्यू

the-interview-featured-image

फिल्म में नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन का काल्पनिक इंटरव्यू लेने गए दो रिपोर्टस की काल्पनिक कहानी पर है. फिल्म पर नॉर्थ कोरिया ने अमेरिका को धमका दिया. सोनी पिक्चर्स को हैक कर लिया गया. अंत में फिल्म थियेटर्स में रिलीज़ नहीं हुई. फिल्म डिजिटल प्लेटफॉर्म्स पर रिलीज़ हुई और 40 मिलियन डॉलर कमाकर सबसे बड़ी डिजिटल हिट बनी.

अ क्लॉकवर्क ऑरेंज

04861-1484752417731

क्यूब्रिक को दुनिया भर के सिनेमा में बेहतरीन डायरेक्टर माना जाता है. उनकी फिल्म अ क्लॉकवर्क ऑरेंज मास्टरपीस मानी जाती है. इसे इसके ग्राफिक वॉयलेंस और रेप सीन के चलते कई देशों में बैन कर दिया गया. ये बैन कई जगह 30 सालों तक चला.

लास्ट टैंगो इन पेरिस

A70-4072

गॉड फादर के किरदार के लिए जाने वाले मर्लेन ब्रांडो इस फिल्म में हैं. फिल्म न सिर्फ कई देशों में बैन है बल्कि आज भी इसकी काफी आलोचना होती है. फिल्म में एक सेक्स सीन है जो हीरोइन को बिना बताए फिल्मा लिया गया था. फिल्म के इस सीन को कई लोग रेप मानते हैं.

लास्ट टेंप्टेशन ऑफ क्राइस्ट

movieposter

मार्टिन स्कोरसेसी की फिल्म में जीसस की इंसानी समस्याओं को दिखाया गया है. इनमें कुछ यौन आकर्षण से जुड़ी है. जाहिर सी बात है फिल्म पर विवाद हुआ और कई देशों में फिल्म अब भी बैन है.

पाइरेट्स ऑफ द कैरेबियन: एट द वर्ल्ड्स एंड

pirates_of_the_caribbean__at_world_s_end_poster_by_jackiemonster12-d8jyrze

फिल्म में पुराने सिंगापुर के कुछ सीन हैं. इनमें एक चीनी समुद्री लुटेरे को दिखाया गया है. फिल्म चीन में बैन कर दी गई. बाद में इसे 20 मिनट छोटा कर चीन में अलग से रिलीज़ किया गया.

द ग्रेट डिक्टेटर

large_i9rN9JPbTHplRa9OLEwcymUAKvb

चार्ली चैप्लिन की इस फिल्म में हिटलर का मज़ाक उड़ाया गया है. जाहिर सी बात है कि ये फिल्म नाजी जर्मनी में बैन हो गई. इसके अलावा भी कई तानाशाही वाले देशों में इसे बैन कर दिया गया.

फिफ्टी शेड्स ऑफ ग्रे

1200x630bb

फिल्म अपने सेक्सुअल कॉन्टेंट के लिए कई देशों में बैन कर दी गई. भारत में भी इसे और इसके दूसरे पार्ट फिफ्टी शेड्स ऑफ डार्कर थिएटर रिलीज़ नहीं किया गया.

डीप थ्रोट

Deep Throat 1972_zpsviavds23

1972 में रिलीज़ हुई डीप थ्रोट इकलौती ऐसी पॉर्न फिल्म है, जिसकी समीक्षा न्यूयॉर्क टाइम्स ने छापी. फिल्म ने अरबों डॉलर का बिज़नेस किया मगर इसकी हीरोइन लिंडा लवलेस को बंदूक के दम पर इस फिल्म में काम करवाया गया. फिल्म कई जगह थिएटर रिलीज़ से रोक दी गई.

द बर्थ ऑफ अ नेशन

Birth_of_a_Nation_theatrical_poster

1915 की ये फिल्म तकनीकी रूप से काफी अच्छी है. मगर इसमें अश्वेतों के साथ हिंसा करने वाले कू क्लक्स क्लान का महिमामंडन किया गया है. क्लान सबसे ज्यादा हिंसक रेसिस्ट श्वेत लोगों का गैंग था. ये लोग अश्वेतों को मारते, बलात्कार करते थे. फिल्म क्लान को हीरो की तरह दिखाती है. फिल्म को आज उसकी खराब अप्रोच के लिए याद किया जाता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi