S M L

Confession : टैटू और सिगरेट से मत बनाइए लड़कियों की गलत इमेज - कृति सनॉन

कृति सनॉन ने कहा कि समाज में टैटू और सिगरेट के कारण महिलाओं को स्टीरियोटाइप का शिकार होना पड़ा है

Updated On: Aug 13, 2017 02:56 PM IST

Hemant R Sharma Hemant R Sharma
कंसल्टेंट एंटरटेनमेंट एडिटर, फ़र्स्टपोस्ट हिंदी

0
Confession : टैटू और सिगरेट से मत बनाइए लड़कियों की गलत इमेज - कृति सनॉन

फिल्म 'बरेली की बर्फी' की बिट्टी यू तो छोटे से शहर से तालुख रखती हैं, लेकिन वह काफी बोल्ड हैं और बड़े-बड़े सपने संजोना बखूबी जानती हैं. फिल्म की बिट्टी की भूमिका में कृति सनॉन हैं. कृति कहती हैं, 'धूम्रपान स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है और इसे टाल देना चाहिए.

मैं धूम्रपान नहीं करती, लेकिन हम जो मुद्दा यहां साबित करना चाहते हैं वह यह है कि जो लड़कियां धूम्रपान करती हैं और अपने शरीर पर टैटू या दूसरी तरह की कला की शौकीन हैं, वो चरित्र रहित नहीं होतीं. हमारे समाज में 'अच्छी लड़कियों' के प्रति सांचा काफी छोटा है. उस सांचे को व्यापक रूप से बढ़ा देना चाहिए या फिर उसे बदलने की आवश्यकता है."

उन्होंने कहा, "जब कोई लड़का मुंहफट होता है या धूम्रपान करता है, तो वह चरित्र रहित नहीं माना जाता है, लेकिन आप लड़कियों को बहुत तेजी से आंक लेते हैं. ऐसा छोटे शहरों में अधिक देखा जाता है. विवाह में भी, केवल लड़की से ही सभी प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं. मैं वास्तव में इन सब में बदलाव लाना चाहती हूं.'

'बरेली की बर्फी' में पहली बार कृति सनॉन, आयुष्मान खुराना और राजकुमार राव एक साथ नजर आएंगे. जंगली पिक्चर्स और बीआर स्टूडियो द्वारा निर्मित 'बरेली की बर्फी' 18 अगस्त को रिलीज होगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi