S M L

यौन शौषण मामले पर जितेंद्र के वकील ने दी सफाई, कहा सारे आरोप हैं बेबुनियाद और निराधार

ये मेरे मुवक्किल को नुकसान पहुंचाने की साजिश है

Updated On: Feb 07, 2018 09:19 PM IST

Arbind Verma

0
यौन शौषण मामले पर जितेंद्र के वकील ने दी सफाई, कहा सारे आरोप हैं बेबुनियाद और निराधार

हिमाचल प्रदेश की शिमला पुलिस ने गुजरे जमाने के अभिनेता जितेंद्र पर यौन शोषण के मामले में एक एफआईआर दर्ज की है. जिसमें ये आरोप लगाया गया है कि जितेंद्र ने साल 1971 में एक होटल के कमरे में एक महिला के साथ गलत हरकत की. जिस पर जितेन्द्र के वकील ने अपनी प्रतिक्रिया दी है.

यौन शोषण के आरोप पर दी प्रतिक्रिया

कुछ देर पहले ये खबर आई कि गुजरे जमाने के अभिनेता जितेंद्र पर यौन शोषण का आरोप लगा है जिसके लिए हिमाचल प्रदेश की शिमला पुलिस ने उन पर एक महिला के कहने पर एफआईआर दर्ज की है. जिसे जितेंद्र के वकील ने सिरे से खारिज कर दिया है और इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है. उन्होंने कहा है कि, ‘करीब 50 साल पुराने इस तरह के बेबुनियाद और बकवास आरोपों को कोई भी कानून एंटरटेन नहीं करता. कानून के तहत कोई भी शिकायत तीन साल के भीतर होनी चाहिए ताकि उसकी अच्छी तरह से जांच हो सके. साथ ही कानून किसी को भी इस तरह की इजाजत नहीं देता कि किसी कथित छिपे हुए उद्देश्य के तहत कोई भी किसी व्यक्ति के खिलाफ सार्वजनिक रुप से तथ्यहीन आरोप लगाए. ये उनके मुवक्किल को नुकसान पहुंचाने की साजिश है.’

47 साल पहले की है घटना

बुधवार को ये शिकायत की गई है जिसके मुताबिक ये घटना 47 साल पहले की है जब पीड़िता 18 साल की थी और जितेंद्र 28 साल के थे. जो महिला जितेंद्र को अपना कजिन बता रही है, उसने ये बताया कि जितेंद्र उस वक्त उनके घर पर दिल्ली आए और शिमला अपनी फिल्म की शूटिंग पर ले गए. महिला के घर वालों ने उन्हें साथ में जाने की परमिशन दे दी. महिला ने बताया कि नशे की हालत में जितेंद्र ने यौन शोषण किया. महिला ने ये भी कहा कि उन्होंने इतने साल बाद ये कदम इसलिए उठाया कि अगर माता-पिता के जीवित रहते उन्हें ये सब बातें पता चलती तो उनका दिल टूट जाता.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi