S M L

जानें क्या है न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर, इरफान जल्द ठीक हों इसकी दुआ करें

ऐसा ट्यूमर कितना खतरनाक होता है यह उसके आकार, प्रकार या किस तरीके का है, इस पर निर्भर करता है

Updated On: Mar 17, 2018 04:20 PM IST

FP Staff

0
जानें क्या है न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर, इरफान जल्द ठीक हों इसकी दुआ करें
Loading...

फिल्म अभिनेता इरफान खान न्यूरोएंडोक्राइन नामक बीमारी से जूझ रहे हैं. खुद इरफान ने शुक्रवार को ट्वीट कर अपनी बीमारी का खुलासा किया. उन्होंने कहा कि वो इस बीमारी का इलाज कराने के लिए लंदन जा रहे हैं.

इरफान का यह ट्वीट आते ही उनके फैंस में मायूसी की लहर दौड़ गई. इरफान जल्द स्वस्थ हों, इसके लिए वो दुआएं कर रहे हैं. फिल्मों में निभाए उनके शानदार किरदारों और एक्टिंग को याद कर लोग सोशल मीडिया पर उनके जल्द ठीक होने की कामना कर रहे हैं. आइए जानते हैं क्या है यह बीमारी, क्या इसका इलाज संभव है, अगर है तो कैसे होता है इलाज.

क्या है न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर

न्यूरोएंडोक्राइन सेल्स में बेतरतीब वृद्धि होने से न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर होता है. ये सेल्स शरीर के कई हिस्सों में पाए जाते हैं. आंत, पैंक्रियाज, फेफड़े और थायरॉयड में ऐसे सेल्स पाए जाते हैं.

इरफान ने अपने ट्वीट में लिखा है कि न्यूरो का मतलब हमेशा दिमाग से जुड़ा ही कुछ नहीं होता. यह ट्यूमर भी दरअसल शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है लेकिन ऐसा भी बताया जाता है कि यह ज्यादातर पाचन व्यवस्था पर सबसे ज्यादा असर डालता है. ऐसा बताया जाता है कि इस कैंसर का जल्दी पता लगा पाना मुश्किल होता है और बहुत ही कम मामलों में ऐसा होता है कि यह रोग जल्द पकड़ में आ सके.

एंडोक्राइन सिस्टम को भी समझ लें

एंडोक्राइन सिस्टम शरीर की वह व्यवस्था होती है जिसमें हॉर्मोन्स और ग्लैंड्स या ग्रंथियां शामिल होती हैं जो हॉर्मोन्स को खून के प्रवाह में छोड़ने का काम करती हैं ताकि वह अपने निर्धारित अंग तक पहुंचकर अपना काम कर सके. हॉर्मोन्स उन केमिकल्स को कहते हैं जिसे शरीर के अंदर ग्रंथियां छोड़ती हैं. अलग अलग हॉर्मोन के अपने अपने अंग तय होते हैं जहां वे पहुंचकर अपना काम करते हैं.

खून की नलियां इन हॉर्मोन्स को अपने निर्धारित अंग तक ले जाने का काम करती हैं. हॉर्मोन ही होते हैं जो कई सेल्स और अंग के कार्यों पर असर डालते हैं. ऐसे में नर्वस सेल्स को बनाने वाले हॉर्मोन में जब कुछ असामान्य होने लगे तो शरीर पर उलटा असर पड़ने लग सकता है.

मुमकिन है इसका इलाज

क्या न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर का इलाज संभव है? इस बारे में दिल्ली स्थित सर गंगा राम अस्पताल के डॉ. सौमित्र रावत ने एएनआई को बताया कि ट्यूमर के आकार-प्रकार, लोकेशन और मायोटिक इंडेक्स पर इलाज निर्भर करता है. ऐसे ट्यूमर को ऑपरेशन कर निकाला भी जा सकता है. रावत ने कहा, ट्यूमर शरीर में कहां है, इसे पता लगाने के बाद उसे निकाला जा सकता है और इसके ठीक होने के चांस ज्यादा हैं. एक बार ऑपरेशन होने के बाद मरीज को बराबर चेकअप कराना होता है ताकि यह बीमारी आगे न पनपे.

दुआओं का दौर जारी

‘मदारी’ एक्टर जल्द ठीक हों, इसके लिए लोग दुआएं मांग रहे हैं. सोशल मीडिया पर भी लोग शुभकामनाएं भेज रहे हैं. उनकी एक फैन शिवांगी ठाकुर ने ट्वीट किया, इरफान खान की सेहत को लेकर कई अफवाहें उड़ रही हैं. आशा है यह झूठी निकले. वे बेस्ट एक्टरों में एक हैं और काफी अच्छे इंसान भी. इरफान खान के लिए प्रार्थन और कोई चमत्कार हो जाए इसके लिए भी प्रार्थना कर रही हूं. गेट वेल सून.

एक और फैन हुजैफा बिंत जिलानी ने ट्वीट किया, इरखान खान आज के दौर के सबसे अच्छे एक्टरों में एक हैं. फालतू का कोई ग्लैमर नहीं, कोई दिखावा नहीं, पूरा-पूरी एक्टिंग, प्योर टैलेंट. खबर काफी दुखद है.

सोशल मीडिया पर इरफान के कई फैन मार्ग्रेट मिशेल की यह लाइन भी लिख रहे हैं-जिंदगी में हमेशा वही नहीं मिलता जिसे हम चाहते हैं. इसी लाइन के साथ उन्हें कई शुभकामनाएं दी गई हैं.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi