S M L

औरतों को थोड़ा बेशर्म और सेल्फिश हो जाना चाहिए: स्वरा भास्कर

स्वरा को लगता है कि बदलाव हो रहे हैं, बस थोड़ा वक्त लगेगा.

Updated On: Mar 08, 2017 04:13 PM IST

FP Staff

0
औरतों को थोड़ा बेशर्म और सेल्फिश हो जाना चाहिए: स्वरा भास्कर

स्वरा भास्कर अपनी फिल्म अनारकली ऑफ आरा की किरदार अनारकली की तरह ही बोल्ड और मजबूत हैं और वो महिला दिवस पर महिलाओं को भी कुछ ऐसी ही सलाह देती हैं.

स्वरा कहती हैं कि औरतों को सबसे पहले तो थोड़ा बेशर्म और सेल्फिश हो जाना चाहिए. ऐसा करने के बाद वो खुद काफी सारी परेशानियों से बाहर आ जाएंगी.

औरतों के लिए काफी कुछ नहीं बदला है, इस बात पर स्वरा असहमति जताती हैं. उन्हें लगता है कि कुछ नहीं बदला है कहना बहुत सारे बदलावों को नकारने जैसा है. उनके हिसाब से देश में काफी कुछ बदल रहा है. हां कुछ हिस्से हैं ऐसे, जहां चीजें नहीं बदल रहीं. लेकिन हमारा देश इतना बड़ा है और इसमें इतने तरह-तरह के छोटे-छोटे समाज हैं, जहां चीजों को बदलने में वक्त लगेगा.

महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी के लड़कियों के लिए लक्ष्मण रेखा की जरूरत पर स्वरा कहती हैं, ‘जिन्हें महिलाओं के लिए बेहतर माहौल तैयार करने और उन्हें सशक्त बनाने के लिए काम करना चाहिए, वही ऐसी बातें कर रहे हैं. आप औरतों की आजादी, मर्दों की फितरत की वजह से कम नहीं कर सकतीं.’

वुमंस डे पर महिलाओं के लिए कोई मैसेज? स्वरा कहती हैं कि औरतों पर फालतू के बोझ डाला जाता है. उन्हें अपने अलावा सबको खुश रखने, जिम्मेदारी निभाने के लिए मजबूर किया जाता है. तो मुझे यही कहना है कि थोड़ी बेशर्म बनो, इससे डर निकलेगा. और सेल्फिश बनो खुश रहो.

स्वरा की फिल्म अनारकली ऑफ आरा 24 मार्च को रिलीज हो रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi