S M L

फिल्म अच्छी हो तो लोग बुलाकर अवार्ड देंगे : राहुल बोस

13 साल की उम्र में एवरेस्ट की चोटी फतह करने वाली पूर्णा की जिंदगी पर बनी है फिल्म 'पूर्णा'

Hemant R Sharma Hemant R Sharma, Sunita Pandey Updated On: Mar 19, 2017 08:01 PM IST

0
फिल्म अच्छी हो तो लोग बुलाकर अवार्ड देंगे : राहुल बोस

यूथ आइकॉन अवार्ड फॉर सोशल जस्टिस एन्ड वेलफेयर और ग्रीन ग्लोब फाउंडेशन जैसे समानित अवार्ड जीत चुके राहुल बोस की छवि एक ऐसे अभिनेता की है जो फ़िल्में भी हमेशा लीक से हटकर ही करते हैं. राहुल बोस को अवार्ड जिताऊ अभिनेता के रूप में भी जाना जाता है. इस बारे में राहुल बोस का कहना है कि उन्होंने कभी अवार्ड के लिए काम नहीं किया. अगर काम अच्छा हो तो लोग घर से बुलाकर अवार्ड देते हैं.

राहुल बोस इन दिनों अपनी फिल्म 'पूर्णा ' के प्रचार में व्यस्त हैं. इस फिल्म के निर्देशन और निर्माण के अलावा राहुल ने इसमें अभिनय भी किया है. यह फिल्म पूर्णा मालावत की असल जिंदगी पर आधारित है जिसने 13 साल की छोटी सी उम्र में एवरेस्ट की सबसे ऊंची चोटी फतह की थी. उनके नाम एवरेस्ट पर चढ़ने वाले सबसे छोटे पर्वतारोही का विश्व रिकॉर्ड है.

पूर्णा के म्यूजिक लॉन्च में पहुंच इंडस्ट्री के दिग्गज

पूर्णा के म्यूजिक लॉन्च में पहुंच इंडस्ट्री के दिग्गज

राहुल बोस के मुताबिक़ जब मैं पूर्णा से मिला तो उसकी जिंदगी में मुझे कुछ ख़ास बात लगी इसलिए मैंने पूर्णा की जिंदगी पर फिल्म बनाने का फैसला किया था. राहुल के मुताबिक़ इस फिल्म के कुछ दृश्यों की शूटिंग पूर्णा मलबाथ के असली घर में की गई है ताकि फिल्म को वास्तविकता के ज्यादा से ज्यादा करीब रखा जा सके.

राहुल ने कहा कि जब हमने 'पूर्णा' की शूटिंग शुरू की तो मैं इस बात को लेकर निश्चित था कि जहां तक हो सकेगा शूटिंग वास्तविक स्थानों पर करेंगे. उन्होंने कहा "इसलिए हम पूर्णा के गांव पकाला गए और उनकी वास्तविक झोपड़ी में शूटिंग की.  हमने दार्जलिंग में एचएमआई पर भी शूटिंग की, जहां पूर्णा ने पहाड़ पर चढ़ना सीखा था. अगर हम चाहते तो एवरेस्ट पर शूटिंग कर सकते थे, लेकिन इस बात को लेकर संदेह था कि मेरी बॉम्बे की टीम वहां रह पाएगी."

राहुल इस फिल्म की एक स्पेशल स्क्रीनिंग भी रख चुके हैं, जहाँ खेल और फिल्म से जुडी कई बड़ी हस्तियों ने फिल्म की खूब तारीफ़ की. तो क्या ये राहुल का एक और अवार्ड विनिंग स्टेप है? राहुल के मुताबिक़ उन्हें किसी अवार्ड के स्टैम्प की जरूरत नहीं है और ना ही वे अवार्ड के लिए फ़िल्में बनाते हैं. अगर मेरी फिल्म साधनहीन प्रतिभा को सामने लाने और उनकी मुश्किलों को लोगों तक पहुँचाने में कोई योगदान दे पाई तो मैं समझूँगा यही मेरा अवार्ड है.राहुल बोस प्रोडक्शंस, राय मीडिया प्राइवेट लिमिटेड तथा अमित पाटनी द्वारा संयुक्त रूप से निर्मित 'पूर्णा' 31 मार्च को रिलीज होगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi