S M L

FILM REVIEW  भैयाजी सुपरहिट : भैयाजी सुपरहिट न सही ‘हिट’ तो हैं

इस हफ्ते रिलीज हुई फिल्म भैयाजी सुपरहिट बाजार से आउट हो चुके स्टार्स को इंडस्ट्री में वापसी का एहसास कराएगी

फ़र्स्टपोस्ट रेटिंग:

Updated On: Nov 23, 2018 02:02 PM IST

Hemant R Sharma Hemant R Sharma
कंसल्टेंट एंटरटेनमेंट एडिटर, फ़र्स्टपोस्ट हिंदी

0
FILM REVIEW  भैयाजी सुपरहिट : भैयाजी सुपरहिट न सही ‘हिट’ तो हैं
निर्देशक: नीरज पाठक
कलाकार: सनी देओल, प्रीति जिंटा, अमीषा पटेल, अरशद वारसी, श्रेयस तलपड़े, पंकज त्रिपाठी, संजय मिश्रा, रंजीत

फिल्म गदर में सनी देओल का हैंडपंप उखाड़ने वाला सीन देखकर आपको अगर अब भी हंसी आ जाती है तो सिनेमाघरों में इस हफ्ते आपके लिए एक फिल्म लगी है नाम है भैयाजी सुपरहिट. सनी देओल का तारीख पर तारीख वाला डायलॉग आपके कानों में अभी तक गूंजता है तो भी आपके लिए एक फिल्म लगी है भैयाजी सुपरहिट, सनी देओल के फैन हैं तो आपके लिए इस हफ्ते हंसने का अच्छा मौका है. हंसाने में सनी पाजी का साथ दे रहे हैं अरशद वारसी, श्रेयस तलपड़े, पंकज त्रिपाठी और संजय मिश्रा.

कहानी

बनारस के मशहूर डॉन भैयाजी यानी देवी दयाल की ये कहानी शुरू होती है सनी देओल के जाने-माने एक्शन्स के साथ. वो डॉन हैं उनके पीछे चेलों की फौज है. लेकिन भाभीजी बनी प्रीति जिंटा उन्हें किसी बात पर छोड़कर अपने मायके चली जाती हैं. भैयाजी उनके शॉक में दीवाने हो जाते हैं. इस दीवानगी का इलाज कराने वो साइकैट्रिस्ट बुद्धिराजा के पास पहुंचते हैं लेकिन वहां भी वो तोड़फोड़ पर उतारू हो जाते हैं. एक दिन टीवी पर करोड़ों कमाने की कहानी सुना रहे फिल्म निर्देशक गोल्डी कपूर(अरशद वारसी) की स्टोरी टीवी पर देखकर भैयाजी के चेले उसे मुंबई से उठाकर फिरौती के लिए बनारस ले आते हैं. भैयाजी के चंगुल में फंसा गोल्डी कपूर उल्टा भैयाजी को ही एक फिल्म बनाने के लिए मना लेता है, उसका तर्क है कि जब भैयाजी को भाभीजी फिल्म में देखेंगी तो खुद ब खुद वापस आ जाएंगी. फिर शुरू होती है फिल्म बनाने की कहानी. फिल्म बनने के बाद क्या भाभीजी वापस भैयाजी की जिंदगी में आती हैं या नहीं ये देखने के लिए आपको थिएटर्स का रुख करना होगा.

कॉमेडी

बॉलीवुड के पुराने मसालों के तड़कों से भरपूर ये एक मनोरंजन से भरी फिल्म है. इसमें कॉमेडी के सारे पुट शामिल किए हैं. सनी देओल अपने पुरानी अंदाज में एक्शन भी करते हैं लेकिन वो कॉमेडी करके लोगों को हंसाने में भी कामयाब नजर आए हैं. अरशद वारसी पूरी फिल्म में अपने शानदार अभिनय से आपका मनोरंजन करेंगे. उनका साथ श्रेयस तलपड़े ने दिया है जो गोलमाल जैसी फिल्मों से आपको हंसाते आ रहे हैं. संजय मिश्रा ने कुछ सीरियस फिल्मों के बाद अचानक थिएटर में लोगों को हंसाया है उनका लुक और बॉडी लैग्वैज देखकर डौंडू चिल वाला स्टाइल आपका पक्का याद आ जाएगा. छोटा सा रोल पंकज त्रिपाठी का भी है.

हीरोइन्स

फिल्म में प्रीति जिंटा और अमीषा पटेल का रोल है. प्रीति भैयाजी की वाइफ हैं जो टूटी फूटी अंग्रेजी बोलकर लोगों को हंसाने का काम कर रही हैं लेकिन उनका शकी बीवी वाला किरदार अच्छा लगा है. अमीषा पटेल का रोल फिल्म के दूसरे हाफ में आता है जब वो भैयाजी की फिल्म की हीरोइन बनकर उन्हें अपनी उंगलियों पर नचाने की कोशिश करती हैं. अमीषा को यहां देखकर आपको दस साल पुरानी वाली उनकी फिल्मों की याद आ जाएगी.

डायरेक्शन

फिल्म का निर्देशन नीरज पाठक ने किया है. कई जगहों पर फिल्म से उनकी पकड़ ढीली नजर आई है. फिर भी इतने शानदार एक्टर्स के साथ वो अगर इसे थोड़ा और कसा हुआ बना देते तो एक दशक वाली पुरानी मसाला फिल्मों की आज के बॉलीवुड में धमाकेदार वापसी हो सकती थी. इसमें नीरज पाठक से भारी चूक हुई है. फिल्म का संगीत बेहद खराब है. गानों पर पैसा खर्च किया गया है लेकिन वो अपना असर छोड़ पाने में कामयाब नहीं हुए हैं. हां कॉमडी सीन्स को निखारने में उनका काम ठीक-ठाक है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi