S M L

RIP: मशहूर लेखक ब्रिज कात्याल का 85 साल की उम्र में निधन, इलाज के लिए नहीं थे पैसे

साल 1965 में आई शशि कपूर और अभिनेत्री नंदा की फिल्म ‘जब जब फूल खिले’ की कहानी ब्रिज कात्याल ने ही लिखी थी

Updated On: Sep 15, 2018 01:21 PM IST

Arbind Verma

0
RIP: मशहूर लेखक ब्रिज कात्याल का 85 साल की उम्र में निधन, इलाज के लिए नहीं थे पैसे

मशहूर लेखक ब्रिज कात्याल का निधन हो चुका है. वो लंबे वक्त से रेक्टल कैंसर से पीड़ित थे. आखिरी वक्त में उनके पास इलाज करवाने के लिए पैसे नहीं थे जिसकी वजह से उनका निधन बांद्रा स्थित चैरिटी अस्पताल में हो गया. उनके निधन की जानकारी लेखक-निर्देशक अनुषा श्रीनिवासन अय्यर ने दी.

लेखक ब्रिज कात्याल का हुआ निधन

बॉलीवुड के मशहूर लेखक ब्रिज कात्याल अब हमारे बीच नहीं रहे. 85 साल की उम्र में उनका निधन हो गया. इस बात की जानकारी लेखक-निर्देशक अनुषा श्रीनिवासन ने दी. उन्होंने आईएएनएस को बताया कि, ‘ब्रिज जी की एनर्जी तीरफ-ए-काबिल थी. मैंने लेखन का काम उन्हीं से सीखा है. वो चाहते थे कि मैं डायरेक्शन की और रुख करूं. यहां तक कि वे प्रोड्यूसर की तलाश भी कर रह रहे थे. जब मेरी शॉर्ट फिल्म ‘सारे सपने अपने है’ फेस्टिवल में दिखाई गई थी तो मुझसे ज्यादा खुशी उन्हें हुई थी.’

आखिरी दिनों में नीना गुप्ता थीं साथ

ब्रिज कात्याल के आखिरी दिनों में उनके साथ अभिनेत्री नीना गुप्ता थीं. कुछ दिन पहले ही नीना ने अपने इंस्टाग्राम पर ब्रिज कात्याल के साथ एक तस्वीर साझा करते हुए एक भावुक पोस्ट लिखा था. उन्होंने लिखा था कि, ‘शांति अवेदना अस्पताल का धन्यवाद कि उसने मेरे दोस्त ब्रिज कात्याल का ध्यान रखा. इन्होंने मेरे लिए सांस सीरियल लिखा था. आप बहुत अच्छे हैं. कोई दुनिया छोड़ने से पहले इतनी अच्छी फिल्में और संदेश नहीं दे सकता. फिर भी हम गलतियां करते हैं और परिणाम भुगतना पड़ता है. लेक्चर नहीं है सामने की सच्चाई है.’ आपको बता दें कि, साल 1965 में आई शशि कपूर और अभिनेत्री नंदा की फिल्म ‘जब जब फूल खिले’ की कहानी ब्रिज कात्याल ने ही लिखी थी. इसके अलावा उन्होंने ‘अजूबा’ और ‘ये रात फिर न आएगी’ जैसी फिल्में भी लिखीं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi