S M L

मसाला फिल्में बॉलीवुड की आत्मा हैं – अनिल चरणजीत

अनिल चरणजीत ने फिल्म गोलमाल अगेन, पीके, सिंह इज ब्लिंग, रईस जैसी फिल्मों में काम किया है

Hemant R Sharma Hemant R Sharma Updated On: Oct 27, 2017 07:21 PM IST

0
मसाला फिल्में बॉलीवुड की आत्मा हैं – अनिल चरणजीत

एक्टर अनिल चरणजीत इन दिनों कई फिल्म्स में नजर आ रहे हैं. उनकी लेटेस्ट फिल्म गोलमाल अगेन ने 150 करोड़ रुपए के बिजनेस की तरफ बढ़ रही है. गोलमाल की इस सक्सेस पर हमने बात की अनिल से जिन्होंने हमें बताईं अपने बारे में कई दिलचस्प बातें.

गोलमाल में अपने रोल के बारे में बताइए?

गोलमाल में मैंने एक साउथ इंडियन का रोल प्ले किया है. इसमें जो माधव और उसके दोस्तों की शरारतों का शिकार होता है. ये लोग कैसे अपनी भूतिया शरारतों से इस शख्स को नचाते हैं. ये एक ऐसा कॉमिक रोल है. जिसके बारे में अभी खुलासा करना फिल्म के मजे को खराब कर सकता है.

कैरेक्टर रोल करने की शुरुआत कैसे हुई

मैं एक एक्टर हूं और मैं किसी भी रोल के लिए इनकार नहीं करता हूं. जो भी रोल मेरे पास आते हैं मैं उन्हें ये समझकर नहीं करता कि ये कैरेक्टर रोल है या फिर मेन रोल है, मेरे लिए एक्टिंग एक सबसे मेन है और जो मुझे ऑफर होता है मैं उसे निभाने के लिए अपनी पूरी एनर्जी लगा देता हूं.

Anil Tarnjeet 1

रोहित शेट्टी के साथ काम करने का एक्सपीरियंस कैसा रहा?

रोहित बड़े ही कमाल के इंसान हैं. उनके साथ काम करने का मजा ये है कि आप एनर्जी से भरे रहते हैं. उनकी टीम भी बहुत सॉर्रेड है. सबको अपने काम के बारे में पता होता है. आपको बहुत कुछ सीखने को मिलता है. वो वक्त पर सेट पर आते हैं और शूट पूरा होने के बाद टीम के साथ जिम भी जाते हैं. उनके साथ काम करके लगता ही नहीं है कि आप इतने बड़े डायरेक्टर के साथ काम कर रहे हैं जिसने इतनी बड़ी हिट फिल्में दी हैं और बड़े सीधे और सरल इंसान हैं.

अजय देवगन को जब आपने पहली बार देखा तो क्या हुआ?

अजय को मैंने फूल और कांटे में पहली बार दो बाइक्स वाले एक्शन सीन में टीवी पर देखा था और फिर सामने से उनको दो कारों पर खड़े होकर वैसा ही सीन करते हुए देखना अमेजिंग था. उनके साथ काम करके बहुत कुछ सीखने को मिला

आपका नाम अनिल मांगे काफी जगह है और अब आप अनिल तरनजीत हो गए हैं?

जी, ये मैंने चरणजीत अपने पिता के नाम पर रखा है, दो साल पहले वो इस दुनिया को अलविदा कह गए. मैं जब स्ट्रगल कर रहा था तब वो मेरे लिए लिए बहुत प्रार्थना किया करते थे और जब मैं बॉलीवुड में थोड़ा सक्सेफुल हो गया तो ये देखने के लिए अब वो इस दुनिया में नहीं हैं, इसलिए मैंने अपने नाम के बाद अपने पिता का नाम जोड़ लिया. ये मेरी उनको श्रद्धांजलि है.

आपने अक्षय के साथ सिंह इस ब्लिंग में काम किया

अक्षय कुमार सर के से मैंने अनुशासन सीखा. उनसे फिट रहने के टिप्स और उनका कॉमिक टाइमिंग काफी धमाकेदार है. अक्षय सर जैसा दूसरा एक्टर बॉलीवुड में नहीं है.

आप अपने बारे में कुछ बताइए?

मैंने पुणे में पढ़ाई की और फिर मैं मुंबई विस्लिंग वुड्स में आ गया एक्टिंग सीखने के लिए. मुझे हमेशा से इस बात का चस्का था कि मैं पूरी तरह से कोर्स वगैरहा करके ही इस इंडस्ट्री में जाऊंगा. मैं पुणे में जॉब करता था और वहां मेरे दोस्त गोलमाल की शूटिंग देखने जाया करते थे सिर्फ इसलिए कि उन पर किसी की नजर पड़ जाए और वो फिल्म में आ जाएं. लेकिन मैंने कभी ऐसा नहीं किया. मुझे ये पता था कि मैं पहले एक्टिंग सीख लूं फिर मैं फिल्मों में जाऊंगा और देखिए गोलमाल 4 में मुझे एक्टिंग करने का मौका मिल गया.

आपने शाहरुख के साथ रईस में और आमिर के साथ पीके में रोल्स किए हैं अब आगे आप अपना भविष्य कहां देखते हैं?

मैं अपना भविष्य कॉन्टेंट ड्रिविन फिल्मों में देखता हूं. जैसे अभी न्यूटन आई थी. इस तरह की फिल्मों के लिए मैं खुद को स्टेबलिश करने की कोशिश कर रहा हूं.

गोलमाल अगेन तो काफी अच्छा बिजनेस कर लिया है लेकिन ये साल बॉलीवुड के लिए ज्यादा अच्छा नहीं रहा फिल्मों को न चलाना आपको डराता है क्या?

उतर-चढ़ाव हर इंडस्ट्री में आते हैं. बॉलीवुड उनसे दो-चार हो रहा है. हॉलीवुड में भी ऐसा होता है. वहां की गिनी चुनी फिल्में ही यहां हमें देखने को मिलती है लेकिन वहां भी बहुत सारी फिल्में बनती हैं और फ्लॉप हो जाती हैं. हम यहां पर बॉलीवुड की सारी फिल्में देखते हैं इसलिए हमें लगता है कि अच्छी फिल्में भी आ रही हैं और बुरी फिल्में भी आ रही हैं. कुछ ऐसा फॉर्मूला नहीं है. जुड़वा 2 को ही ले लीजिए लोग कह रहे थे कि दोबारा जुड़वा क्यों, लेकिन वो भी लोगों ने खूब पसंद की. वरुण धवन ने जबरदस्त काम किया है और कमाल की फिल्म निकली, चली भी. इसलिए इस तरह से बॉलीवुड में कुछ फिल्मों का न चलना डरावना नहीं है.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
FIRST TAKE: जनभावना पर फांसी की सजा जायज?

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi