S M L

अश्विन कुमार को अपनी फिल्म 'नो फादर्स इन कश्मीर' के लिए सेंसर सर्टिफिकेट का इंतजार, जानें पूरा मामला

'नो फादर्स इन कश्मीर' 16 साल के दो किशोरों के बीच की एक प्रेम कहानी है, जिनके पिता कश्मीर में लापता हो जाते हैं और उनके लौटने की कोई संभावना नहीं होती है.

Updated On: Dec 30, 2018 01:11 PM IST

Hemant R Sharma Hemant R Sharma
कंसल्टेंट एंटरटेनमेंट एडिटर, फ़र्स्टपोस्ट हिंदी

0
अश्विन कुमार को अपनी फिल्म 'नो फादर्स इन कश्मीर' के लिए सेंसर सर्टिफिकेट का इंतजार, जानें पूरा मामला

राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित और शॉर्ट फिल्‍म 'लिटल टेररिस्ट' के लिए ऑस्कर नामित डायरेक्टर अश्विन कुमार हाल ही में अपनी एक शॉर्ट फिल्‍म चर्चा में बने हुए हैं. दरअसल, आपको बता दें कि डायरेक्टर अश्विन कुमार को अपनी अपमिंग फिल्म 'नो फादर्स इन कश्मीर' के लिए सेंसर बोर्ड के प्रमाणपत्र का इंतजार कर रहे हैं.

आपको बता दें कि इस फिल्म को सेंसर बोर्ड ने 'ए' सर्टिफिकेट दिया था. लेकिन इस पर डायरेक्‍टर ने आपत्‍ती जताते हुए कहा कहा था, "ए' सर्टिफिकेट हमारे मुख्य युवा दर्शकों के मौलिक अधिकारों का हनन करता है. उन्हें यह जानने का मौका नहीं देता है कि उनके देश में क्या हो रहा है."

(यह भी पढ़ें : DeepVeer Honeymoon: 'सिम्बा' की रिलीज के बाद दीपिका को लेकर हनीमून पर निकले रणवीर, देखिए तस्वीरें)

खबरों के मुताबिक अश्विन कुमार इसी इंतजार में हैं कि उन्हें इस फिल्म का सीबीएफसी से प्रमाणन कब मिलेगा अश्विन कुमार ने कहा है कि, "हमारी फिल्म में कोई आपत्तिजनक सीन नहीं है, किसी भी तरह की हिंसा नहीं है. जानकारी के लिए बता दें कि फिल्म 'नो फादर्स इन कश्मीर' 16 साल के दो किशोरों के बीच की एक प्रेम कहानी है, जिनके पिता कश्मीर में लापता हो जाते हैं और उनके लौटने की कोई संभावना नहीं होती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi