S M L

FACE-OFF : 'पद्मावती' पर हमले रोके मोदी सरकार - दीपिका पादुकोण

दीपिका पादुकोण ने एक के बाद एक ट्वीट करके सरकार से इन हमलों को रोकने की गुहार लगाई है

Updated On: Oct 18, 2017 05:02 PM IST

Hemant R Sharma Hemant R Sharma
कंसल्टेंट एंटरटेनमेंट एडिटर, फ़र्स्टपोस्ट हिंदी

0
FACE-OFF : 'पद्मावती' पर हमले रोके मोदी सरकार - दीपिका पादुकोण

दीपिका पादुकोण ने सरकार से गुहार लगाई है कि वो आए दिन पद्मावती पर हो रहे विरोध को रोकने के लिए कदम उठाए.

केन्द्रीय सूचना प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी को ट्वीट करते हुए दीपिका ने लिखा है कि ये सब अब रुकना चाहिए और सरकार को इसके खिलाफ कड़ा एक्शन लेना चाहिए.

सूरत में दो दिन पहले कलाकार करण जरीवाला की पद्मावती की रंगोली को पैरो से रौंदे जाने के बाद दीपिका ने आज जमकर ट्वीट किए हैं.

दीपिका ने लिखा है कि कौन हैं ये लोग? इन घटनाओं के लिए कौन जिम्मेदार है? कब तक हम ऐसा होने देते रहेंगे.

ये लोग कानून को अपने हाथ में ले रहे हैं, ये लोग हमारी आजादी और अभिव्यक्ति की आजादी पर हमला कर रहे हैं.

करण की कला पर इस तरह का हमला पूरी तरह से दिल को झकझोर देना वाला है. जितनी निंदा की जाए कम.

जब से पद्मावती की शूटिंग शुरू हुई है तभी से ये फिल्म राजपूत संगठनों के निशाने पर है और ये लोग ना सिर्फ धमकियां दे रहे हैं बल्कि जैसे ही इनका मौका मिलता है ये अपनी हरकतें दिखाने से बाज नहीं आते.

दो दिन पहले इन्होंने सूरत में करण जरीवाला की रंगोली पर जयश्री राम के नारे लगाते हुए इसे पैरों से रौंद दिया.

तो इससे पहले पद्मावती के ट्रेलर रिलीज के दिन राजपूत संगठन ने पीवीआर सिनेमा को चिट्ठी लिखकर धमकी दी थी कि अगर उन्होंने इस फिल्म को रिलीज किया तो वो सिनेमाघरों को तोड़ देंगे.

ये है पीवीआर सिनेमा को राजपूताना संघ की धमकी भरा पत्र

ये है पीवीआर सिनेमा को राजपूताना संघ की धमकी भरा पत्र

मुंबई के पास कर्जत में कुछ महीनों पहले इसके सेट को आग के हवाले कर दिया और इससे पहले जयपुर के आमेर किले में राजपूत करणी सेना के गुंडों ने संजय लीला भंसाली के साथ मारपीट तक कर डाली थी.

padmavati

जयपुर में करणी सेना के सदस्यों को समझाते क्रू मेंबर

जिससे इस फिल्म के कलाकारों समेत पूरी टीम में दहशत का माहौल है और उन्होंने अब तक इस फिल्म का मीडिया में सामने आकर प्रमोशन तक नहीं किया है.

हैरान करने वाली बात ये भी है कि सरकार की तरफ से इन धमकी देने वालों और हमला करने वालों को कड़ा जवाब नहीं दिया जा रहा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi