S M L

Details: हिरण शिकार में कैसे फंसे सैफ, तब्बू और सोनाली बेंद्रे?

वन विभाग ने लगाया था आरोप

Updated On: Apr 04, 2018 08:10 PM IST

Arbind Verma

0
Details: हिरण शिकार में कैसे फंसे सैफ, तब्बू और सोनाली बेंद्रे?

काला हिरण शिकार मामले में सलमान खान समेत कई सितारों पर भी फैसला आना बाकी है. एक-एक करके आज इस मामले से जुड़े सभी सितारे जोधपुर पहुंच गए हैं. इस मामले में सलमान खान के अलावा सोनाली बेंद्रे, सैफ अली खान, तब्बू और नीलम पर भी 5 अप्रैल को अंतिम फैसला आने वाला है. ये सभी इस मामले में आरोपी हैं. ये मामला 20 सालों से कोर्ट में चल रहा है.

आखिर कैसे फंसे सभी कलाकार?

सितंबर 1998 में जोधपुर में सूरज बड़जात्या की फिल्म ‘हम साथ-साथ है’ की शूटिंग चल रही थी. इस फिल्म में सलमान खान, सैफ अली खान, तब्बू, नीलम और सोनाली बेंद्रे मुख्य किरदारों में थे. ये सभी कलाकार उम्मेद भवन पैलेस में ठहरे हुए थे. इसी बीच 5 अक्टूबर 1998 को कांकाणी गांव की सरहद पर दो हिरणों के शिकार करने की खबरें स्थानीय अखबारों में छपी. जिस पर वहां का वन विभाग हरकत में आ गया और ये खबर आग की तरह पूरे देश में फैल गई. इस खबर पर स्थानीय प्रशासन से लेकर तत्कालीन भैरो सिंह शेखावत सरकार तक ने मामले को गंभीरता से लिया. इन सभी पर सलमान खान को उकसाने और काले हिरण का शिकार करने का आरोप है.

वन विभाग ने लगाया था आरोप

राजस्थान वन विभाग ने इस मामले में जांच करने के बाद ये आरोप लगाया कि 1 और 2 अक्टूबर की आधी रात को फिल्म के सितारों ने कांकणी गांव की सरहद पर दो काले हिरण और एक दूसरी जगह पर भी हिरणों का शिकार किया. जिसे लेकर वन विभाग ने मामला दर्ज कराकर जांच शुरू कर दी. जिसके बाद 12 अक्टूबर 1998 को सलमान खान को गिरफ्तार कर लिया गया. दूसरे दिन ही वन विभाग के अधिकारियों ने सलमान और गवाहों के बयान दर्ज करवाए. ये सारा बयान कैमरे के सामने दर्ज किया गया था. जिसके 5 दिन बाद 17 अक्टूबर 1998 को सलमान को जमानत पर रिहा कर दिया गया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi