S M L

कॉपीराइट एक्ट 1957 पर अमिताभ ने जताई नाराजगी, बताया पूरी तरह से बकवास

बाबूजी की कविताओं पर सिर्फ मेरा हक है

Updated On: Mar 21, 2018 05:28 PM IST

Arbind Verma

0
कॉपीराइट एक्ट 1957 पर अमिताभ ने जताई नाराजगी, बताया पूरी तरह से बकवास

कॉपीराइट एक्ट 1957 के नियम पर महानायक अमिताभ बच्चन ने अपनी नाराजगी जाहिर की है. अमिताभ ने अपने ब्लॉग पर इस कॉपीराइट एक्ट के बारे में लिखते हुए इस एक्ट को पूरी तरह से बकवास बताया है. उन्होंने कहा कि वो इस एक्ट के विरोध में जरूर लड़ेंगे.

कॉपी राइट एक्ट पर अमिताभ की नाराजगी

अभिनेता अमिताभ बच्चन ने कॉपी राइट के बारे में अपने ब्लॉग पर लिखा है. उन्होंने कॉपी राइट एक्ट 1957 का जिक्र करते हुए लिखा है कि, ‘किसी भी रचनाकार का उसके साहित्य, ड्रामा और म्यूजिक पर सिर्फ 60 साल नहीं बल्कि हमेशा के लिए हक होना चाहिए. अगर हकीकत में आप देखेंगे तो ये एक रचनाकार की विरासत होती है लेकिन 60 साल के बाद आम जनता की हो जाएगी. बाबूजी की कविताओं पर सिर्फ मेरा हक है. मैं इस एक्ट के खिलाफ जरूर लड़ूंगा. ये पूरी तरह से बकवास है. ये नियम केवल 60 सालों के लिए क्यों है? 61 साल के लिए क्यों नहीं? मेरी विरासत हमेशा मेरी ही रहेगी, इस पर किसी और का हक कभी नहीं होगा.’

60 साल बाद नहीं रहेंगे अधिकार

अमिताभ बच्चन ने आगे अपने ब्लॉग में लिखा कि, ‘अपने पिता के वंशज के तौर पर उनकी रचनाओं पर जो अधिकार उनके पास हैं, वो उनके निधन के 60 साल के बाद नहीं रह जाएंगे. अब इसे दुनिया के हवाले कर दिया जाएगा. लोग इसे खरोंच सकते हैं, खराब भी कर सकते हैं, नष्ट कर सकते हैं और व्यावसायिक हित के लिए इसका इस्तेमाल भी कर सकते हैं. इससे भी बुरा हो सकता है लेकिन इस पर मेरा कॉपी राइट है.’

amitabh-650_032118103102

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi