S M L

विप्रो ने बढ़ाया फ्रेशर्स का सैलरी पैकेज, अब इतने रुपयों से होगी शुरुआत

टीसीएस और इंफोसिस जैसी कंपनियां भी इस तरह की रणनीति अपना रही हैं इसलिए यह भी फ्रेशर्स को अच्छी सैलरी पर हायर कर रही हैं

Updated On: Oct 25, 2018 01:58 PM IST

FP Staff

0
विप्रो ने बढ़ाया फ्रेशर्स का सैलरी पैकेज, अब इतने रुपयों से होगी शुरुआत
Loading...

जानी मानी कंपनी विप्रो ने दिवाली से पहले फ्रेशर्स को बंपर गिफ्ट दिया है. विप्रो ने फ्रेशर्स की सैलरी को 3.2 लाख रुपए सालाना से बढ़ाकर 3.5 लाख रुपए सालाना कर दिया है.

टीओआई के मुताबिक विप्रो के प्रेसीडेंट और चीफ ह्यूमन रिसोर्स ऑफिसर सौरभ गोविल ने कहा, 'हम हायरिंग की क्वालिटी को सुधारने के लिए कोडिंग टेस्ट को इंप्रूव कर रहे हैं. हायरिंग प्रोसेस के दायरे को बढ़ाने के लिए हम नेशनल टेलैंट टेस्ट को एक्सपेंड कर रहे हैं.बीते साल से हम इस बार 25 से 30 फीसदी ज्यादा हायरिंग कर रहे हैं.'

टीसीएस और इंफोसिस जैसी कंपनियां भी इस तरह की रणनीति अपना रही हैं इसलिए यह भी फ्रेशर्स को अच्छी सैलरी पर हायर कर रही हैं. टीसीएस ने फ्रेशर्स के लिए नेशनल लेवल टेस्ट लॉन्च किया है.

विप्रो तीन तरह से हायरिंग करता है. पहली स्टेज में वह आईआईटी जैसे स्टार कॉलेज से हायरिंग करता है जिसमें फ्रेशर्स का औसत सैलरी पैकेज 12 लाख रुपए होता है. इसके बाद टर्बो प्रोग्राम होता है जिसमें 6.5 लाख से 7 लाख रुपए तक में हायरिंग होती है. इसके बाद ट्रेडीशनल हायरिंग होती है.

गोविल ने बताया, विप्रो कॉलेजों के साथ मिलकर काम कर रही है जिससे छात्रों को स्पेशल मॉड्यूल के तहत ट्रेनिंग दी जा सके. यूएस कैंपस के लिए हायरिंग 65 हजार डॉलर में की जा रही है.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi