S M L

तेल की कीमतें घटाने के लिए यह कदम उठा सकती है सरकार

सरकार ओएनजीसी और ऑयल इंडिया जैसी तेल कंपनियों पर अप्रत्याशित लाभ पर कर (विंडफॉल-गेन) लगाने की तैयारी में है

Updated On: May 24, 2018 05:16 PM IST

FP Staff

0
तेल की कीमतें घटाने के लिए यह कदम उठा सकती है सरकार

पेट्रोल, डीजल की बढ़ती कीमतें घटाने के लिए सरकार कड़े कदम उठा सकती है. सरकार ओएनजीसी और ऑयल इंडिया जैसी तेल कंपनियों पर अप्रत्याशित लाभ पर कर (विंडफॉल-गेन) लगाने की तैयारी में है. इसके अलावा राज्यों को सेस और वैट घटाने को भी कहा जा सकता है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट की बैठक हुई थी. बैठक के बाद सरकार की तरफ से कहा गया कि वह तेलों के दाम घटाने के लिए किसी दीर्घकालिक उपाय पर गौर कर रही है.

ऐसी संभावना जताई जा रही है कि सरकार के इस कदम से तेल कंपनियों के लिए कच्चे तेल की कीमत 70 डॉलर प्रति बैरेल तक सीमित की जा सकती है. इतना ही नहीं, अगर यह योजना अमल में लाई जाती है तो भारतीय तेल क्षेत्र से तेल निकाल कर उसे दुनिया की अन्य कंपनियों को 70 डॉलर प्रति बैरेल से ज्यादा पर बेचने पर कंपनियों को आमदनी का कुछ हिस्सा सरकार को देना होगा.

क्या है विंडफॉल टैक्स

विंडफाल टैक्स ऐसा कर है जो अप्रत्याशित आय पर लागू होता है. दुनिया में और भी कई देश हैं जैसे- अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम और चीन, जहां यह टैक्स लगाया जाता है. अप्रत्याशित आय का अर्थ है कि जो किन्हीं बाहरी कारणों से सामान की बिक्री का मूल्य बढ़ा देते हैं. यह बात किसी भी क्षेत्र में लागू हो सकती है. भारत में फिलहाल तेल की कीमतें घटाने के लिए यह टैक्स लगाने पर विचार हो रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi