S M L

ग्रुप मेडिकल कवर के साथ क्यों पर्सनल हेल्थ कवर लेना जरूरी?

ग्रुप मेडिकल के साथ पर्सनल हेल्थ कवर लेने के फायदे क्या आप जानते हैं?

FP Staff Updated On: Oct 22, 2017 09:01 PM IST

0
ग्रुप मेडिकल कवर के साथ क्यों पर्सनल हेल्थ कवर लेना जरूरी?

आपने यह पहले भी कई बार सुना होगा कि 'कठिन परिश्रम का फल भविष्‍य में मिलता है और आलस का फल तुरंत मिलता है.' कम से कम हेल्थ इंश्योरेंस के बारे में तो यह कहा जा सकता है कि आज आप जो कुछ भी खरीदते हैं उसका फायदा आपको भविष्य में मिलता है.

अक्सर हेल्‍थ इंश्योरेंस को अनदेखा किया जाता है. लेकिन हकीकत यह है कि मुश्किल वक्‍त में यह आपका सबसे मजबूत सहारा होता है. इससे आपको महंगे इलाज के दौरान हजारों रुपए बचाने में मदद मिल सकेगी. इलाज के लिए किसी के सामने हाथ नहीं फैलाना पड़ता है.

सही पॉलिसी का चयन मुश्किल

अगर आप हेल्‍थ इंश्‍योरेंस खरीदने का फैसला कर भी लें, तब भी एक सही पॉलिसी का चयन करना कभी आसान नहीं होता. नौकरी करने वाले ज्यादातर लोग यही सोचते हैं कि ऑफिस में ग्रुप हेल्थ पॉलिसी है तो अलग से पर्सनल पॉलिसी खरीदने का क्या फायदा?

ग्रुप हेल्‍थ इंश्‍योरेंस एक ऐसा प्‍लान है, जिसे एक कंपनी अपने कर्मचारियों के लिए खरीदती है, ताकि वे कार्यस्थल पर खुद को सुरक्षित महसूस कर सकें. इस प्रकार की पॉलिसी से जुड़े नियम और शर्तें कंपनी ही तय करती है. कोई भी इसमें व्‍यक्तिगत रूप से फेरबदल नहीं कर सकता.

वहीं दूसरी ओर, पर्सनल हेल्‍थ इंश्योरेंस पॉलिसी निजी रूप से खरीदी जाती है. इसे कोई व्‍यक्ति खुद के लिए या अपने परिवार के लिए खरीदता है. दोनों ही प्‍लान के अपने कुछ लाभ हैं. लेकिन कुछ ऐसे कारण भी हैं, जो यह साबित करते हैं कि पर्सनल हेल्‍थ कवर ज्‍यादा बेहतर है.

 

पर्सनल हेल्‍थ इंश्‍योरेंस, बीमा कंपनी और ग्राहक के बीच एक सीधा करार होता है. यहां आपको इंश्‍योरेंस मार्केट में मौजूद एक जैसी कंपनियों में से अपने लिए पॉलिसी चुनने की आज़ादी होती है. आपके पास पॉलिसी को जारी रखने या बंद करने का भी अधिकार होता है. यहां आप अपनी जरूरत के अनुसार पॉलिसी में बदलाव कर सकते हैं. आप विभिन्‍न राइडर्स की मदद से अतिरिक्‍त सुरक्षा भी प्राप्‍त कर सकते हैं.

पॉलिसी पोर्ट करना भी संभव

किसी भी समय, यदि आप अपनी पॉलिसी से संतुष्‍ट नहीं हैं और अपनी पॉलिसी को किसी अन्‍य बीमा कंपनी में ले जाना चाहते हैं, तो इस स्थिति में पर्सनल हेल्‍थ इंश्‍योरेंस पॉलिसी का चयन करें, क्‍योंकि इसी के साथ पॉलिसी बदलना संभव है.

जब आप एक प्‍लान की बजाए दूसरा प्‍लान लेते हैं या एक कंपनी की बजाए दूसरी कंपनी का चयन करते हैं, तब भी वह फायदे जारी रहेंगे, जो अब तक मिलते रहे हैं. इसका मतलब यह भी है कि अपनी मौजूदा पॉलिसी के वेटिंग पीरिएड के साथ ही आप अपने सभी लाभ आगे लेकर जा सकते हैं.

आप पर निर्भर पारिवारिक सदस्यों की सुरक्षा

कई मामलों में आपके आश्रितों के लिए भी सुरक्षा लेने और पारिवारिक सदस्यों की संख्या का प्रावधान होता है, जिन्‍हें आप पॉलिसी में शामिल करवाना चाहते हैं. हालांकि एक प्‍लान के तहत परिवार के किसी सदस्य को शामिल करना एक अच्‍छा विचार लगता है, लेकिन इसके कई नुकसान भी हैं. जैसे कि आप सीमित संख्‍या में ही आश्रितों को शामिल कर सकते हैं. वहीं, प्रत्‍येक व्‍यक्ति को कवरेज भी कम मिलता है. इस परिस्थिति में, हेल्‍थ इंश्‍योरेंस पॉलिसी होने के बावजूद उनके पास कोई सुरक्षा नहीं रह जाती. ऐसे में परिवार के प्रत्‍येक सदस्‍य के लिए पर्सनल कवरेज लेना बेहतर होगा.

आपके रिटायरमेंट के लिए कवरेज

यदि आपको लगता है कि आपका ग्रुप इंश्‍योरेंस प्‍लान आपके पर्सनल हेल्‍थ कवरेज से बेहतर है, फिर भी हो सकता है कि यह आपके रिटायरमेंट के बाद आपका साथ ना निभा

सके. जिस वक्‍त आप रिटायर होते हैं या नौकरी छोड़ने का फैसला करते हैं, पॉलिसी अपने आप खत्‍म हो जाती है. इसके साथ ही पॉलिसी के संचित लाभ भी उसी समय रद्द हो जाते हैं. इस तरह आप एक ऐसे वक्त में पॉलिसी से वंचित हो जाएंगे, जब आपको उसकी सबसे ज्‍यादा जरूरत है. यदि आप जीवन के सबसे मुश्किल समय में सुख से जीना चाहते हैं, तो यह सुनिश्चित करें कि आपने एक सही पर्सनल हेल्‍थ इंश्‍योरेंस प्‍लान में निवेश किया हो.

किसी ने सही कहा है, 'खतरा वहां होता है, जहां आपको पता नहीं होता कि आप क्‍या कर रहे हैं.' इसलिए, किसी भी हेल्‍थ इंश्‍योरेंस प्‍लान में निवेश करने से पहले उसका ठीक प्रकार विश्लेषण और हिसाब लगा लें. इस तरह भविष्य में आपको इसका सर्वोत्तम लाभ मिल सकेंगे.

ध्रुव सरीन, प्रमुख - हेल्‍थ इंश्‍योरेंस, पॉलिसीबाजार.कॉम

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi