S M L

खाने-पीने की वस्तुओं के दाम घटने से मार्च में महंगाई दर में आई कमी

सरकार द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार सब्जियों, दाल, दलहन, अंडे, मांस और मछली के सस्ते होने से करीब आठ महीने बाद खाद्य पदार्थों में अपस्फीति देखी गई है

Bhasha Updated On: Apr 16, 2018 05:12 PM IST

0
खाने-पीने की वस्तुओं के दाम घटने से मार्च में महंगाई दर में आई कमी

दाल, सब्जियों के दाम घटने से थोक मूल्य आधारित महंगाई दर मार्च माह में मामूली कम होकर 2.47 प्रतिशत रह गई. होलसेल प्राइस इंडेक्स आधारित महंगाई दर एक महीना पहले फरवरी में 2.48 प्रतिशत और पिछले साल मार्च में 5.11 प्रतिशत रही थी.

सरकार द्वारा सोमवार को जारी आंकड़ों के अनुसार सब्जियों, दाल, दलहन, अंडे, मांस और मछली के सस्ते होने से करीब आठ महीने बाद खाद्य पदार्थों में अपस्फीति (डिफ्लेशन) देखी गई है.

मार्च में खाद्य पदार्थ 0.29 प्रतिशत सस्ते हुए हैं जबकि फरवरी में इनमें 0.88 प्रतिशत गिरावट दर्ज की गई. इसी तरह मार्च के दौरान सब्जियों के दाम 2.70 प्रतिशत, दाल 20.58 प्रतिशत और गेहूं 1.19 प्रतिशत सस्ते हुए हैं.

इस दौरान प्याज और आलू में मुद्रास्फीति क्रमश: 42.22 प्रतिशत और 43.25 प्रतिशत रही है. विनिर्मित उत्पादों की महंगाई 3.03 प्रतिशत रही है जबकि चीनी 10.48 प्रतिशत सस्ती हुई है. हालांकि, ईंधन एवं विद्युत श्रेणी में मार्च में महंगाई 4.70 प्रतिशत बढ़ी है. वहीं फरवरी में इनकी मुद्रास्फीति 3.81 प्रतिशत बढ़ी थी.

इक्रा की मुख्य अर्थशास्त्री अदिति नायर ने कहा कि कच्चा तेल एवं प्राकृतिक गैस की बढ़ती कीमतें तथा डॉलर के मुकाबले रुपए की हालिया गिरावट से अप्रैल में थोक महंगाई दर बढ़ सकती है. उन्होंने कहा कि हमारा अनुमान है कि होलसेल प्राइस इंडेक्स आधारित महंगाई दर 2017-18 के 2.9 प्रतिशत से बढ़कर 2018-19 में 3.9 प्रतिशत पर पहुंच जाएगी.

जनवरी के महंगाई दर के आंकड़े को 2.84 प्रतिशत के प्राथमिक आकलन से संशोधित कर 3.02 प्रतिशत कर दिया गया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi