विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

दिल्‍ली में McDonald's के 43 में से 18 आउटलेट फिर शुरू

दिल्‍ली में मैकडॉनल्‍ड के 43 आउटलेट में से 18 फिर से खुले

FP Staff Updated On: Sep 20, 2017 01:24 PM IST

0
दिल्‍ली में McDonald's के 43 में से 18 आउटलेट फिर शुरू

दिल्‍ली में मैकडॉनल्‍ड के 43 आउटलेट में से 18 फिर से खोल दिए गए है. भारत में मैकडॉनल्‍ड फ्रेंचाइजी ऑनर विक्रम बख्‍शी ने कहा कि इंम्‍प्‍लॉइज, वेंडर, लैंडलॉर्ड और सभी स्‍टेक होल्‍डर के हितों को ध्‍यान में रखते हुए 21 आउटलेट को फिर से खोलने का फैसला लिया गया है.

बता दें कि लंबे समय से  फ्रेंचाइजी लाइसेंस को लेकर चल रहे विवाद की वजह से मैकडॉनल्‍ड इंडिया की नॉर्थ और ईस्‍ट इंडिया के 169 आउटलेट में से 43 बंद कर दिए गए थे. CPRL के अलावा मैकडॉनाल्‍ड का हार्डकैसल रेस्‍टोरेंट्स प्राइवेट लिमिटेड के साथ भी फ्रेंचाइजी एग्रीमेंट है. हार्डकैसल पश्चिमी और दक्षिणी भारत में मैकडॉनाल्‍ड के 261 आउटलेट्स चलाती है.

इसलिए लिया खोलने का फैसला

विक्रम बख्‍शी ने मंगलवार को जारी एक बयान में कहा कि 17 सितंबर को कनॉट प्‍लाजा रेस्‍टोरेंट लिमिटेड (CPRL) ने फिर से 21 आउटलेट खोलने का एक रिजॉल्‍यूशन पास किया था.

-  इसके लिए CPRL बोर्ड ने NCLT द्वारा नियुक्‍त एडमिनिस्‍ट्रेटर जस्टिस जीएस सिंघवी की अध्‍यक्षता में एक बैठक 17 सितंबर को हुई थी, जिसमें मैकडॉनल्‍ड का कोई रिप्रजेंटेटिव शामिल नहीं हुआ था.

-  इस बैठक में इंम्‍प्‍लॉइज, वेंडर, लैंडलॉर्ड और सभी स्‍टेक होल्‍डर के हितों को ध्‍यान में रखते हुए 21 आउटलेट को फिर से खोलने का फैसला लिया गया था.

-  बख्‍शी ने बताया कि इन रेस्‍टोरेंट को फिर से खोलने का हेल्‍थ लाइसेंस मिला है, जिसके आधार पर 18 आउटलेट राजधानी दिल्‍ली में फिर से खोल दिए गए हैं.

क्या है मामला

मैकडॉनाल्‍ड और बख्‍शी के बीच तनातनी 2013 में उस वक्‍त शुरू हुई, जब उन्‍हें CPRL के MD पद से बर्खास्‍त कर दिया गया था. इसकी वजह उनके प्रबंधन की खामियां थीं.

- उसके बाद बख्‍शी ने नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्‍यूनल (NCLT) का दरवाजा खटखटाया था. इस साल जुलाई में ट्रिब्‍यूनल ने उन्‍हें उनकी पोस्‍ट वापस करने का फैसला दिया, जिसे मैकडॉनाल्ड ने फिर से चुनौती दी.

-  इसके बाद बख्‍शी ने मैकडॉनाल्‍ड द्वारा फ्रेंचाइजी लाइसेंस रद्द किए जाने को नेशनल कंपनी लॉ अपीलेट ट्रिब्‍यूनल (NCLAT) में चुनौती दी.

- NCLAT ने बख्‍शी को किसी भी तरह की इंटरिम राहत देने से मना कर दिया. अब दोनों पार्टियों द्वारा दायर याचिकाओं पर 21 सितंबर को सुनवाई होगी.

(साभार न्यूज 18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi