S M L

सरकारी बैंकों को मिल सकता है राहत का तोहफा

फाइनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली ने ने कहा सरकारी बैंकों के लिए बेहतर गवर्नेंस की व्यवस्था की जाएगी

FP Staff Updated On: Jan 28, 2018 09:09 PM IST

0
सरकारी बैंकों को मिल सकता है राहत का तोहफा

फाइनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली सरकारी बैंकों को बजट में राहत दे सकते हैं. अरुण जेटली ने कहा कि डिपार्टमेंट ऑफ फाइनेंशियल सर्विसेज इस बात का ब्योरा जुटा रहा है कि सरकारी बैंकों को कितना फंड चाहिए.

बजट की तमाम खबरों के लिए यहां क्लिक करें

उन्होंने कहा, अक्टूबर 2017 में बैंकों के रीकैपिटलाइजेशन का फैसला हुआ था. इसमें बैंक रीकैपिटलाइजेशन का दायरा बढ़ाकर 2 लाख करोड़ रुपए कर दिया गया था. लगातार बढ़ रहे एनपीए के कारण सरकारी बैंकों की हालत खराब हो चुकी है. जेटली ने कहा कि उनकी मकसद सरकारी बैंकों में बेहतर गवर्नेंस बरकरार रखना है. अरुण जेटली सरकारी बैंकों के रीकैपिटलाइजेश के मामले पर बोल रहे थे.

इस मौके पर बैंकिंग सचिव ने कहा कि सरकारी बैंकों में रखा आम आदमी का पैसा पूरी तरह सुरक्षित है. सभी बैंकों में जरूरी फंड का जो स्तर चाहिए उसे बरकरार रखा जाएगा. बैंकिग सचिव ने कहा कि सरकारी बैंकों का मकसद ग्राहकों को संतुष्ट करना है.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi