S M L

बजट 2018: स्कूलों के बुनियादी ढांचे के लिए चाहिए ज्यादा पैसा

मिड डे मिल के तहत बच्चों को बेहतर खाना मिल सके उसके लिए बजट बढ़ाना जरूरी

Updated On: Jan 28, 2018 09:08 PM IST

Bhasha

0
बजट 2018: स्कूलों के बुनियादी ढांचे के लिए चाहिए ज्यादा पैसा

शिक्षा क्षेत्र से जुड़े लोग इसबार ज्यादा आवंटन की उम्मीद कर रहे हैं. अक्षय पत्र फाउंडेशन ने इस बजट में बच्चों के भरपूर पोषण के लिए बजट में ज्यादा फंड की डिमांड की है. इसमें सर्वशिक्षा अभियान के तहत ‘मिड डे मिल’ के लिए पर्याप्त आवंटन करने की मांग की है.

बजट की तमाम खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अक्षय पत्र फाउंडेशन के वाइस चेयरमैन चंचलापति दास ने कहा कि ‘मिड डे मिल’ सर्विसेज से 2016-17 में 9.78 करोड़ बच्चों को फायदा हुआ था. इससे सरकारी और सरकारी मदद से चलने वाले स्कूलों को भरपेट खाना मिल सकता है.

दास ने कहा कि ‘मिड डे मिल’ की वजह से जहां बच्चों का स्कूल आना पक्का हो रहा है. इससे बच्चों में पोषण बढ़ेगा. स्कूलों की गुणवत्ता सुधारने और साफ सफाई के लिए ज्यादा फंड की जरूरत है. उन्होंने कहा, ऐसे में सरकार को आगामी बजट में स्कूलों के बुनियादी ढांचा सुधार के लिए भी पर्याप्त बजट चाहिए. दास ने कहा कि स्कूलों के इंफ्रास्ट्रक्चर में सुधार से वहां साफ-सफाई बढ़ेगी. खाना पकाने की व्यवस्था बेहतर होगी. भंडारण जैसी सुविधाओं का विस्तार होगा. इससे स्कूल आने वाले बच्चों को और प्रोत्साहित किया जा सकेगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi