S M L

बजट 2018: ग्रामीण बाजार बढ़ाने पर सरकार का हो फोकस

एफएमसीजी कंपनियां चाहती हैं कि सरकार इनकम टैक्स घटाकर आम आदमी के हाथ खर्च करने लायक रकम बढ़ाए ताकि उपभोग बढ़ सके

Updated On: Jan 28, 2018 09:17 PM IST

Bhasha

0
बजट 2018: ग्रामीण बाजार बढ़ाने पर सरकार का हो फोकस

एफएमसीजी कंपनियां चाहती हैं कि इस बजट का फोकस गांवों पर हो. इन कंपनियों की डिमांड है कि बजट 2018 में ग्रामीण बाजार पर ज्यादा ध्यान दिया जाए ताकि किसानों की आमदनी बढ़ाई जा सके.

एफएमसीजी कंपनियों का कहना है कि सरकार को कुछ ऐसे फैसले लेने चाहिए जिससे कज्यूमर के हाथ में ज्यादा पैसा रहे. इसके लिए इनकम टैक्स स्लैब में बदलाव और रोजगार के नए मौके बनाने चाहिए. साथ ही गोदामों और कोल्ड स्टोरेज को भी बढ़ावा देना चाहिए. इसमें एफडीआई बढ़ाने का भी प्रयास करना चाहिए.

बजट की तमाम खबरों के लिए यहां क्लिक करें

गोदरेज कंज्यूमर प्रोडक्ट्स के सीएमडी विवेक गंभीर ने कहा, ‘गांवों में मजदूरी घट रही है. नए रोजगार नहीं बढ़ने से खर्च लायक आमदनी कम है.' उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र में उत्पादकता बढ़ाने की कोशिश होनी चाहिए ताकि किसानों के पास ज्यादा पैसा आए.

अर्नेस्ट एंड यंग के टैक्स पार्टनर प्रशांत खाटोर ने कहा कि सरकार को ऐसी नीतियां लानी चाहिए जिससे उपभोग बढ़ाया जा सके. व्यक्तिगत आयकर में कमी होनी चाहिए जिससे लोगों के हाथ में खर्च करने लायक ज्यादा पैसा आए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi