S M L

नीरव मोदी और चोकसी ने बैंकों को ही नहीं कारोबार को भी झटका दिया

आंकड़ों पर गौर किया जाए तो अप्रैल-जुलाई की अवधि में कुल रत्न और आभूषण निर्यात एक साल पहले की तुलना में 1.5 फीसदी गिरकर 13.7 अरब डॉलर हो गया.

Updated On: Sep 06, 2018 02:05 PM IST

FP Staff

0
नीरव मोदी और चोकसी ने बैंकों को ही नहीं कारोबार को भी झटका दिया
Loading...

बैंकों को चूना लगाने वाले हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के जरिए सिर्फ बैंक ही पीड़ित नहीं हुए बल्कि दूसरे संस्थानों भी इनके जरिए काफी प्रभावित हुए हैं. मोदी और चोकसी पर कथित तौर पर 2 बिलियन डॉलर धोखाधड़ी करने का आरोप है. जिससे अब भारत का व्यापार भी प्रभावित हो हुआ है.

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक नई दिल्ली में फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन के महानिदेशक अजय सहाई ने कहा कि पंजाब नेशनल बैंक के साथ हुई धोखाधड़ी का खुलासा होने के बाद केंद्रीय बैंक ने वित्तीय प्रणाली का नुकसान सीमित करने के लिए लेटर्स ऑफ अंडरटेकिंग नामक विदेशी मुद्रा में अल्पकालिक वित्तपोषण पर प्रतिबंध लगा दिया. नतीजतन इंडस्ट्री को नए क्रेडिट टूल्स की तलाश करने के लिए मजबूर होना पड़ा, जिससे निर्यातकों और आयातकों की लागत बढ़ी.

व्यापार घाटा

वहीं इसका सबसे खराब असर छोटे उद्योगों पर पड़ा क्योंकि इससे उनके मार्जिन और प्रतिस्पर्धा में बढ़ोतरी देखी गई. वहीं विदेशों के बैंकों में लोन लेने के लिए नीरव मोदी के जरिए नकली पत्रों का इस्तेमाल करने के बाद से व्यापार ऋण को सुरक्षित करना भी मुश्किल हो गया है. इससे देश के बाहर रत्न और आभूषणों के शिपमेंट को भी झटका लगा. यह देश का तीसरा सबसे बड़ा निर्यात है. जिसके कारण व्यापार में भी काफी घाटा देखा गया.

आंकड़ों पर गौर किया जाए तो अप्रैल-जुलाई की अवधि में कुल रत्न और आभूषण निर्यात एक साल पहले की तुलना में 1.5 फीसदी गिरकर 13.7 अरब डॉलर हो गया, जबकि उस समय के दौरान कीमती पत्थरों का आयात 19.5 फीसदी घटकर 9.84 अरब डॉलर हो गया.

बता दें कि इस साल फरवरी में पंजाब नेशनल बैंक में लगभग 14 हजार करोड़ रुपए के घोटाले का पर्दाफाश हुआ था. सीबीआई ने इस मामले में हीरा कारोबारी नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया था.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi