S M L

खराब ब्रेक्जिट डील हमें यूके छोड़ने पर मजबूर कर सकता हैः JLR सीईओ

टाटा मोटर्स के स्वामित्व वाली जैगुआर लैंड रोवर ने 'बैड ब्रेक्जिट डील' के खिलाफ चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि इससे हमें हर साल 1.2 बिलियन पाउंड से अधिक का नुकसान होगा

PTI Updated On: Jul 05, 2018 04:04 PM IST

0
खराब ब्रेक्जिट डील हमें यूके छोड़ने पर मजबूर कर सकता हैः JLR सीईओ

टाटा मोटर्स के स्वामित्व वाली जैगुआर लैंड रोवर (जेएलआर) ने 'बैड ब्रेक्जिट डील' के खिलाफ गंभीर चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि यह ब्रिटेन के सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी के वार्षिक मुनाफे को 1.2 बिलियन पाउंड से ज्यादा प्रभावित कर सकता है. इसके कारण हम ब्रिटेन छोड़ने के लिए भी मजबूर हो सकते हैं. ब्रिटेन अगले साल मार्च में 28 सदस्यी यूरोपीयन यूनियन से बाहर निकलने की तैयारी कर चुका है.

जेएलआर के सीईओ राल्फ स्पेथ ने एक बयान में चेतावनी दी कि एक बुरे ब्रेक्जिट सौदे से जेएलआर को 1.2 बिलियन पाउंड से ज्यादा का नुकासान होगा. इसके परिणामस्वरूप हमें अपने खर्च सीमा को काफी हद तक कम करना होगा. उनका यह बयान तब आया है जब प्रधानमंत्री थेरेसा मे अपने कैबिनेट के साथ पोस्ट ब्रेक्जिट की नीतियों को लेकर एक महत्वपूर्ण बैठक करने वाली हैं.

उन्होंने कहा कि मैं किसी को धमकी नहीं देना चाहता लेकिन हमें इस कदम के प्रभाव को पारदर्शी बनाना होगा. हम ब्रिटेन में रहना चाहते हैं. जेएलआर का दिल और आत्मा यूके में है. राफ्ल स्पेथ ने कहा कि ब्रिटेन में आगे भी निवेश करने और हमारे आपूर्तिकर्ताओं, ग्राहकों और 40 हजार कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए हमें तत्काल मदद की आवश्यकता है.

जेएलआर ब्रिटेन की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी है. जिसे टाटा मोटर्स ने 10 साल पहले फोर्ड से खरीदा था. टाटा के पास स्वामित्व आने के बाद इस पारंपरिक ब्रिटिश ब्रांड का पूरी तरह से भाग्य परिवर्तन हो गया.

स्पेथ ने कहा कि भारतीय स्वामित्व के तहत कंपनी ने पिछले पांच सालों में यूके में 50 बिलियन पाउंड खर्च किए हैं और अगले पांच सालों में 80 बिलियन पाउंड खर्च करने की योजना है. हालांकि यूरोपीयन यूनियन से एक बुरे सौदे के तहत निकलने पर पूरी योजना खतरे में पड़ सकती है.

जेएलआर सीईओ ने यूके से बाहर निकलने की संभावना की तरफ भी इशारा किया और कहा कि अगर हमारे पास अच्छा सौदा नहीं होता है तो मुझे बाहर जाने के लिए मजबूर होना पड़ सकता है. हमें ब्रिटेन में अपने प्लांट को बंद करना होगा और यह बहुत दुखद होगा. हालांकि उन्होंने कहा कि यह काल्पनिक है, और मुझे आशा है कि हमें ऐसा विकल्प नहीं चुनना पड़ेगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi