S M L

स्नैपडील 90 फीसदी कम दाम पर एक्सिस बैंक को फ्रीचार्ज बेचेगी

अमेजन ने भी डिजिटल भुगतान प्लेटफॉर्म के लिए बोली लगाई थी

Bhasha Updated On: Jul 27, 2017 09:26 PM IST

0
स्नैपडील 90 फीसदी कम दाम पर एक्सिस बैंक को फ्रीचार्ज बेचेगी

समस्या में घिरी ई-कॉमर्स कंपनी स्नैपडील ने भुगतान वॉलेट का काम करने वाली अपनी यूनिट फ्रीचार्ज को 385 करोड़ रुपए में एक्सिस बैंक को बेचने पर गुरुवार सहमति जताई. ये कीमत 2015 में कंपनी द्वारा किए गए भुगतान की तुलना में करीब 90 प्रतिशत कम है. कंपनी फ्रीचार्ज को बेचने के लिए एक साल से कस्टमर तलाश रही थी.

निजी क्षेत्र के तीसरे सबसे बड़े बैंक द्वारा अधिग्रहण के लिए किया जाने वाला भुगतान अन्य कंपनियों की कथित पेशकश से अधिक है. इस अधिग्रहण से बैंक को ग्राहक आधार बढ़ाने और डिजिटल प्रौद्योगिकी को पसंद करने वालों की जरूरतों को पूरा करेगा.

कुछ रिपोर्ट के अनुसार फ्रीचार्ज के लिए 1.5 से 2.0 करोड़ डॉलर तक की पेशकश की थी. स्नैपडील ने इसका अधिग्रहण 2015 में 40 करोड़ डॉलर (2500 करोड़ रुपए से अधिक) में किया था.

प्रतिद्वंद्वी ई-वाणिज्य कंपनी तथा वॉलेट पेटीएम ने 1.0 से 2.0 करोड़ डॉलर तक की पेशकश की थी. वहीं अमेजन ने भी डिजिटल भुगतान प्लेटफॉर्म के लिए बोली लगाई थी.

विशेषज्ञों के अनुसार व्यापार के साथ मूल्य वर्द्धन के लिहाज से सौदे का कोई खास मतलब नहीं है क्योंकि रिजर्व बैंक प्रवर्तित नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन के अधिक सुरक्षित और ग्राहक अनुकूल यूपीआई तथा आईएमपीएस एप्लीकेशन शुरू किए जाने के बाद अन्य बैंक इस प्रकार के प्लेटफॉर्म में निवेश के मामले में धीमा रुख अपना रहे हैं.

इसी प्रकार की राय जाहिर करते हुए गोर्टनर में शोध निदेशक सैंडी शेन ने कहा, 'हालांकि अधिग्रहण से एक्सिस बैंक को ग्राहकों को जोड़ने में काफी मदद मिलेगी लेकिन बैंक उस संख्या को बढ़ाने में कितना सफल होगा, यह एक सवाल है.'

उन्होंने कहा, 'डिजिटल वॉलेट काफी प्रतिस्पर्धी खंड है. कई कंपनियां इसमें काम कर रही हैं और व्यापारियों में इसकी स्वीकार्यता बढ़ाने और ग्राहकों को आकर्षित करने को लेकर अच्छी सेवा देने के लिए काफी प्रयास और संसाधन की जरूरत है.'

बैंक की प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी शिखा शर्मा ने संवाददाताओं से कहा कि इस सौदे पर सुबह हस्ताक्षर किए गए और यह बैंक के लिए रणनीतिक दृष्टि से महत्वपूर्ण फैसला है.

उन्होंने कहा कि इस प्रकार की खरीद के लिए कीमत तय करना कठिन है. हम इसके प्रौद्योगिकी प्लेटफॉर्म, उसकी क्षमता, ग्राहक आधार तथा ब्रांड को लेकर उत्साहित हैं.' यह घोषणा ऐसे समय की गई है जब मूल कंपनी स्नैपडील को प्रतिद्वंद्वी कंपनी फ्लिपकार्ट को बेचने के लिए बातचीत अंतित दौर में है.

स्नैपडील के सह-संस्थापक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने वीडियो कॉल में कहा, 'यह फायदेमंद सौदा है. इससे स्नैपडील अपने मूल ई-वाणिज्य कारोबार पर ध्यान दे सकेगा.'

फ्रीचार्ज के पास 5.4 करोड़ पंजीकृत उपयोगकर्ता हैं. कंपनी को पिछले साल 80 करोड़ रुपए की आय हुई थी. सौदे के तहत एक्सिस बैंक फ्रीचार्ज के 200 कर्मचारियों को बरकरार रखेगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi