S M L

बंद हो जाएगा आपका SBI का पुराना ATM कार्ड! ये है मुफ्त में बदलने का तरीका

बैंक की ओर से दी गई जानकारी में बताया गया है कि वह अपने पुराने मैजिस्ट्रिप (मैग्नेटिक) डेबिट कार्ड बंद कर रहा है. इसके बदले ग्राहकों को ईएमवी चिप वाला डेबिट कार्ड लेना होगा. इसकी अंतिम तारीख 31 दिसंबर 2018 है

Updated On: Aug 18, 2018 09:10 PM IST

FP Staff

0
बंद हो जाएगा आपका SBI का पुराना ATM कार्ड! ये है मुफ्त में बदलने का तरीका

देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक भारतीय स्‍टेट बैंक (SBI) पुराने मैजिस्ट्रिप (मैग्नेटिक) ATM कार्ड को बंद करने जा रहा है. बैंक की ओर से दी गई जानकारी में बताया गया है कि वह अपने पुराने मैजिस्ट्रिप (मैग्नेटिक) डेबिट कार्ड बंद कर रहा है. इसके बदले ग्राहकों को ईएमवी चिप वाला डेबिट कार्ड लेना होगा. इसकी अंतिम तारीख 31 दिसंबर 2018 है.

बता दें कि एसबीआई के ग्राहकों को नए डेबिट कार्ड बिना किसी अतिरिक्त चार्ज के जारी किए जाएंगे. इसके साथ ही ग्राहकों से किसी तरह का सालाना मेंटनेंस चार्ज भी नहीं लिया जाएगा.

अब क्या करें- बैंक की ओर से ट्विट कर दी गई जानकारी के मुताबिक, पुराने ATM कार्ड बदलकर उनकी जगह EVM चिप वाला डेबिट कार्ड जारी किया जा रहा है. नए कार्ड के लिए आप ऑनलाइन बैंकिंग से अप्लाई कर सकते हैं. इसके अलावा बैंक की ब्रांच में जाकर अप्लाई करना होगा.

बता दें कि बैंक ने फरवरी 2017 से पुराने कार्ड बंद कर दिए हैं. 31 दिसंबर 2018 से इन्हें पूरी तरह बंद किया जा रहा है. बैंक ने कहा है एसबीआई के ग्राहकों को नए डेबिट कार्ड बिना किसी अतिरिक्त चार्ज के जारी किए जाएंगे. इसके साथ ही ग्राहकों से किसी तरह का सालाना मेंटनेंस चार्ज भी नहीं लिया जाएगा.

बैंक ने अपनी वेबसाइट पर दी हैं इसकी जानकारी- https://bank.sbi/portal/web/personal-banking/magstripe-debit-cardholders

ऐसे मुफ्त में बदलें अपना कार्ड- ग्राहकों को मैगस्ट्रिप कार्ड को ईएमवी कार्ड बदलवाने के लिए एसबीआई के होम ब्रांच पर जाना होगा. अगर ग्राहक चाहें तो इंटरनेट बैंकिंग के जरिए कार्ड बदलने के लिए आवेदन कर सकते हैं. इंटरनेट बैंकिग का इस्तेमाल कर रहे ग्राहकों को बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर लॉग इन कर ई-सर्विसेज टैब में एटीएम कार्ड सर्विस पर क्लिक करना होगा. इसके बाद वे दिशानिर्देश के हिसाब से प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं.

इसलिए बंद हो रहे हैं पुराने कार्ड- पुराने ATM और डेबिट कार्ड के पीछे की तरफ एक काली पट्टी नजर आती है. यही काली पट्टी मैग्नेटिक स्ट्रिप है, जिसमें आपके खाते की पूरी जानकारी दर्ज होती है. ATM में इसे डालने के बाद पिन नंबर डालते ही आप अपने खाते से पैसे निकल पाते हैं. खरीदारी के समय ऐसे कार्ड्स को स्‍वाइप किया जाता है.

रिजर्व बैंक के अनुसार, मैग्‍नेटिक स्‍ट्राइप कार्ड अब पुरानी टेक्‍नोलॉजी हो चुकी है. ऐसा कार्ड बनना अब बंद भी हो गया है, क्‍योंकि ये कार्ड पूरी तरह से सुरक्षित नहीं थे, जिसकी वजह से इन्‍हें बंद कर दिया गया है. अब इनकी जगह EMV चिप कार्ड को तैयार किया गया है. सभी पुराने कार्ड को नए चिप कार्ड से बदला जाएगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi