S M L

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया अपने सबसे निचले स्तर पर

कारोबारियों के अनुसार अमरिकी फेडरल रिजर्व बैंक के चेयरमैन के बयान और घरेलू स्तर पर संसद में पेश अविश्वास प्रस्ताव जैसे कारणों से रुपए में गिरावट आई

Updated On: Jul 19, 2018 10:30 PM IST

Bhasha

0
अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया अपने सबसे निचले स्तर पर

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया आज 43 पैसे टूटकर 69.05 पर बंद हुआ. फेडरल रिजर्व के चेयरमैन की अमेरिकी अर्थव्यवस्था पर उत्साहजनक टिप्पणी से डालर के एक साल के उच्च स्तर पर पहुंचने के साथ रुपये में यह गिरावट आई.

किसी एक दिन में 29 मई के बाद यह सबसे बड़ी गिरावट है. इससे पहले, 28 जून को रुपया 69.10 के रिकॉर्ड न्यूनतम स्तर तक चला गया था.

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया शुरूआती कारोबार में बैंकों तथा आयातकों की अमेरिकी करेंसी की भारी मांग के बीच गिरावट के साथ 68.72 पर पहुंच गया. बाद में यह 69.07 तक चला गया. अंत में यह 43 पैसे या 0.63 प्रतिशत टूटकर 69.05 पर बंद हुआ.

कारोबारियों के अनुसार अमरिकी फेडरल रिजर्व बैंक के चेयरमैन के बयान और घरेलू स्तर पर संसद में पेश अविश्वास प्रस्ताव जैसे कारणों से रुपए में गिरावट आई.

फेडरल रिजर्व के चेयरमैन जेरोम पावेल ने अमेरिकी संसद के समक्ष दिए बयान में अमेरिकी अर्थव्यवस्था की मजबूती की बात कही. इससे ब्याज दर में वृद्धि की संभावना बनी है. हालांकि, उन्होंने इसमें धीरे-धीरे वृद्धि का संकेत दिया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi