S M L

बंधन बैंक को नई ब्रांच खोलने से RBI ने रोका, CEO की सैलरी भी फ्रीज

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बंधन बैंक के सीईओ की सैलरी फ्रीज कर दी है. साथ ही बैंक को नई ब्रांच खोलने से भी मना कर दिया है.

Updated On: Sep 28, 2018 07:22 PM IST

FP Staff

0
बंधन बैंक को नई ब्रांच खोलने से RBI ने रोका, CEO की सैलरी भी फ्रीज

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बंधन बैंक के सीईओ की सैलरी फ्रीज कर दी है. साथ ही बैंक को नई ब्रांच खोलने से भी मना कर दिया है. प्रमोटर के शेयरहोल्डिंग मानकों को पूरा नहीं करने की वजह आरबीआई ने बंधन बैंक के सीईओ और मैनेजिंग डायरेक्टर चंद्रशेखर घोष के खिलाफ यह कार्रवाई की है.

स्टॉक एक्सचेंज को बंधन बैंक ने बताया, 'लाइेंसस में शर्तों के मुताबिक बंधन बैंक नॉन ऑपरेटिव फाइनेंशयल होल्डिंग कंपनी (NOFHC) में हिस्सेदारी घटाकर 40 फीसदी पर नहीं ला सका. जिसके कारण नई ब्रांच खोलने की साधारण मंजूरी को रद्द कर दिया गया.' वहीं बंधन बैंक अब आरबीआई की मंजूरी के बिना कोई नई ब्रांच नहीं खोल पाएगा. हालांकि बंधन बैंक आरबीआई से अग्रिम मंजूरी लेने के बाद ब्रांच खोल सकता है. बंधन बैंक का कहना है कि बैंक लाइसेंस की शर्तों के मुताबिक एनओएफएचसी की शेयरहोल्डिंग को 40 फीसदी पर लाने के लिए जरूरी कदम उठा रही है.'

नया प्राइवेट बैंक

दरअसल, आरबीआई की लाइसेंसिंग शर्तों के मुताबिक एक प्राइवेट बैंक को अपने ऑपरेशन्स के 3 साल के अंदर अपने प्रमोटर की शेयरहोल्डिंग 40 फीसदी करनी होती है. इससे पहले बंधन बैंक एक माइक्रो फाइनेंस संस्था थी और इस साल 23 अगस्त को बंधन बैंक 3 साल पूरे करने वाला भारत का सबसे नया प्राइवेट बैंक बना है. वहीं इस साल मार्च में बंधन बैंक ने पब्लिक ऑफरिंग की शुरुआत भी की थी. जिसके बाद प्रमोटर की शेयरहोल्डिंग 89.62 प्रतिशत से गिरकर 82.28 प्रतिशत हो गई.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi