S M L

ग्राहकों को सस्ता और तेज इंटरनेट देने के लिए डेन और हैथवे को खरीदेगी रिलायंस

रिलायंस हैथवे में भी 51.3 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के लिए वह तरजीही शेयरों के माध्यम से 2,940 करोड़ रुपए का शुरुआती निवेश करेगी

Updated On: Oct 17, 2018 10:06 PM IST

FP Staff

0
ग्राहकों को सस्ता और तेज इंटरनेट देने के लिए डेन और हैथवे को खरीदेगी रिलायंस
Loading...

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने बुधवार को घोषणा की कि वह डेन नेटवर्क्स लिमिटेड और हैथवे केबल एंड डाटाकॉम लिमिटेड में सबसे बड़ी हिस्सेदार होगी. इसके लिए वह कुल 5,230 करोड़ रुपए का भुगतान करेगी.

कंपनी ने एक बयान में कहा कि इस सौदे के लिए वह सेबी के नियमों के तहत तरजीही शेयरों के माध्यम से 2,045 करोड़ रुपए का शुरुआती निवेश करेगी. इसके अलावा डेन के मौजूदा प्रमोटर्स से 245 करोड़ रुपए में 66 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदेगी.

इसी तरह रिलायंस हैथवे में भी 51.3 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के लिए वह तरजीही शेयरों के माध्यम से 2,940 करोड़ रुपए का शुरुआती निवेश करेगी.

रिलायंस, डेन और हैथवे के अल्पांश शेयरधारकों के लिए खुली पेशकश भी करेगी. साथ ही वह सेबी के अधिग्रहण नियमों के अनुसार जीटीपीएल हैथवे लिमिटेड और हैथवे भवानी केबलटेल एंड डाटाकॉम लिमिटेड के अल्पांश हिस्सेदारों के समक्ष भी खुली पेशकश करेगी.

ये दोनों कंपनियां हैथवे के नियंत्रण में हैं. जीटीपीएल हैथवे लिमिटेड में हैथवे की हिस्सेदारी 37.3 प्रतिशत है और दूसरी कंपनी हैथवे की अनुषंगी है.

बयान में मुकेश अंबानी ने कहा कि स्थानीय स्तर पर लोगों तक केबल और इंटरनेट की सेवा पहुंचाने वाले राजन रहेजा (हैथवे) और समीर मनचंदा (डेन) के साथ साझेदारी से वह खुश हैं. इनके साथ हमारी साझेदारी ग्राहकों, स्थानीय केबल ऑपरेटरों, मनोरंजक सामग्री बनाने वालों और इस पूरे कारोबार के लिए बेहतर साबित होगी.

उल्लेखनीय है कि रिलायंस की योजना जियो के माध्यम से आम घरों में ब्रॉडबैंड सेवा के बाजार में पहुंच बनाने की है. कंपनी ने इसके लिए जियो गीगा फाइबर परियोजना की शुरुआत भी की है. इस परियोजना के तहत उसका लक्ष्य 1,100 शहरों के पांच करोड़ घरों में ब्रॉडबैंड सेवा पहुंचाने का है. इस अधिग्रहण से रिलायंस को अपनी इस योजना को अमली जामा पहनाने में बढ़त हासिल होने की उम्मीद है.

कंपनी ने बयान में बताया कि इस सौदे से जियो की पहुंच हैथवे और डेन के करीब 27,000 स्थानीय केबल ऑपरेटरों तक हो जाएगी. इससे जियो को आम घरों में ब्रांडबैंड और केबल टीवी सेवा देने में मदद मिलेगी.

जियो गीगा फाइबर की पेशकश में कंपनी बड़े स्क्रीन पर हाई डेफिनेशन मनोरंजन प्रदान करेगी. साथ ही कई पक्षों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस की सुविधा भी देगी. यह प्रणाली आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस और आवाज के निर्देश पर काम करने की सुविधा भी देगी.

कंपनी ने बताया कि हैथवे, डेन और स्थानीय केबल ऑपरेटरों के बुनियादी ढांचे का उन्नयन जियो गीगा फाइबर और जियो स्मार्ट होम सॉल्यूशंस में करने का काम शुरू किया जा चुका है.

(डिस्क्लेमर: फ़र्स्टपोस्ट रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.)

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi