S M L

JIO, सब्सक्राइबर की संख्या के मामले में वोडाफोन को पछाड़ कर दूसरे नंबर पर पहुंचा

जुलाई 2018 में, वोडाफोन इंडिया लिमिटेड (वोडाफोन) और आइडिया सेलुलर लिमिटेड दोनों को पीछे छोड़कर बाजार में रिलांयस जियो का हिस्सा 19.6% हो गया

Updated On: Oct 12, 2018 03:56 PM IST

FP Staff

0
JIO, सब्सक्राइबर की संख्या के मामले में वोडाफोन को पछाड़ कर दूसरे नंबर पर पहुंचा

इंडिया रेटिंग्स और रिसर्च ने भारत के टेलकॉम सेक्टर का अगस्त 2018 एडिशन जारी कर दिया है. इसमें खास बात ये रही कि रिलायंस जियो ने बाजार में अपनी आकर्षक प्रीपेड/ पोस्टपेड स्कीम और स्मार्टफोन यूजर्स को टारगेट कर लुभावने ऑफर के जरिए अपनी पैठ बना ली है. इसके साथ ही उन्होंने पैसे को लेकर भी लोगों को टारगेट किया और कम कीमत वाले फोन ऑफर करके भी लोगों को अपनी ओर खींच लिया.

जियो के लगातार ग्राहक बढ़े:

जुलाई 2018 में डाटा यूजर के तौर पर जियो के सब्सक्राइबर बढ़े. उस महीने में 10.6 मीलियन वायरलेस सब्सक्राइबर कंपनी के साथ जुड़े थे. मतलब मासिक ग्रोथ रेट 0.9 प्रतिशत रहा. वहीं 11.8 मीलियन जियो 4जी फोन के रिलॉन्च के बाद बढ़े. वहीं दूसरी तरफ बाकी टेलीकॉम कंपनियों के ग्राहकों की संख्या फ्लैट रेट से ही बढ़ी.

एयरसेल के अप्रैल 2018 के बाद से सब्सक्राइबर नहीं मिले. एयरसेल के सर्विस बंद होने की वजह से ज्यादातर ग्राहक दूसरे टेलीकॉम कंपनियों के साथ जुड़ गए.

मार्केट शेयर को सुदृढ़ करना:

जुलाई 2018 में, वोडाफोन इंडिया लिमिटेड (वोडाफोन) और आइडिया सेलुलर लिमिटेड दोनों को पीछे छोड़कर बाजार में रिलांयस जियो का हिस्सा 19.6% हो गया. इसके आधार पर रिलायंस दूसरी सबसे बड़ी कंपनी बन गई. हर महीने की दर के आधार पर भारती एयरटेल लिमिटेड का बाजार में हिस्सा जून 2018 के 30.1% से थोड़ा घटकर 29.8% हो गया. वहीं जुलाई 2018 में वोडाफोन का बाजार में हिस्सा 38.4% था.

म्यूटेड एक्टिव सब्सक्राइबर ग्रोथ:

जुलाई 2018 में वायरलेस सब्सक्राइबरों की संख्या 1.6 प्रतिशत घटककर 1,006.3 मीलियन हो गई. जुलाई 2018 को खत्म हुए 12 महीने में रिलायंस जियो ने 89 मीलियन वीएलआर सब्सक्राइबर जोड़े. वहीं वोडाफोन ने 10 मीलियन और भारती एयरटेल ने 72 मीलियन सब्सक्राइबर जोड़े. एयरटेल के इस 72 मीलियन में से 33 मीलियन सब्सक्राइबर टेलनॉर के भी शामिल हैं.

Jio Phone

स्थिर टेलीडेंसिटी:

जुलाई 2018 में, भारत में टेलीडेंसिटी 90.4% हो गई. जुलाई 2017 में शहरी और ग्रामीण वायरलेस दूरसंचार 159.4% और 58.5% था, जो जुलाई 2017 में क्रमशः 173.2% और 57.5% था. इस महीने के दौरान, शहरी क्षेत्रों में 6.1 मिलियन और ग्रामीण इलाकों में 4.4 मिलियन सब्सक्राइबर जुड़े थे.

ब्रॉडबैंड सब्सक्राइबर बेस में निरंतर वृद्धि:

जुलाई 2018 में, ब्रॉडबैंड ग्राहकों की संख्या 48.0% बढ़कर 460.2 मिलियन हो गई. रिलायंस 4जी फीचर फोन के रिलॉन्च की वजह से ये संख्या प्राप्त हुई, जिसने सस्ते दरों पर डेटा लोगों तक पहुंचाया. हर महीने के आधार पर ब्रॉडबैंड उपभोक्ता की संख्या में जुलाई 2018 में 13.0 मिलियन की वृद्धि हुई. जुलाई 2018 में जुलाई (जुलाई 2017: 41.4%)। जुलाई 2018 में भारती एयरटेल का बाजार हिस्सा 20.7% (जुलाई 2017: 19.0%) हो गया और वोडाफोन आइडिया का मामूली रूप से 23.3% (22.6%) ही हुआ. वहीं रिलायंस का जुलाई 2017 के 41.4% से बढ़कर 49.3% हो गया.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi