विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

अब सौर ऊर्जा के क्षेत्र में उतरेगी योग गुरु रामदेव की पतंजलि

पतंजलि सोलर पैनल से बिजली का उत्पादन कर लोगों के घरों तक मुफ्त बिजली पहुंचाएगी. साथ ही यह खुद ही सोलर पैनल का निर्माण भी करेगी. कंपनी इसके लिए ग्रेटर नोएडा में एक फैक्ट्री लगा रही है.

FP Staff Updated On: Dec 06, 2017 02:06 PM IST

0
अब सौर ऊर्जा के क्षेत्र में उतरेगी योग गुरु रामदेव की पतंजलि

उपभोक्ता बाजार में झंडे गाड़ने के बाद पतंजलि अब दूसरे क्षेत्रों में भी अपना विस्तार करने की तैयारी में है. योग गुरु रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड अब सौर ऊर्जा (सोलर एनर्जी) उपकरणों का भी निर्माण करेगी. यह क्षेत्र काफी तेजी से उभर रहा है और इसमें चीन से आयात होने वाले सामानों का दबदबा है.

पतंजलि न सिर्फ सोलर पैनल से बिजली का उत्पादन कर लोगों के घरों तक मुफ्त बिजली पहुंचाएगी बल्कि खुद ही सोलर पैनल का निर्माण भी करेगी.

इकोनॉमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक पतंजलि की योजना सोलर उपकरणों के उत्पादन में 100 करोड़ रुपए निवेश करने की है. कंपनी के प्रबंध निदेशक (एमडी) आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि सौर ऊर्जा उपकरणों का निर्माण करना एक प्रकार से स्वदेशी आंदोलन को बढ़ावा देना है. भारत के हर घर में बिजली मिले, इसलिए हम ऐसा करने जा रहे हैं.

दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में इसकी फैक्ट्री अगले कुछ महीनों के भीतर पूरी तरह चालू हो सकती है. उपभोक्ता उत्पादों के निर्माण और बिक्री में सफलता हासिल करने के बाद सौर ऊर्जा उपकरण विनिर्माण इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में पतंजलि का यह पहला कदम होगा.

Baba Ramdev Launches Patanjali 'Atta' Noodles

योग गुरु रामदेव

2017 की शुरूआत में पतंजलि ने नेविगेशन में मदद करने वाले उपकरण बनाने वाली कंपनी अडवांस नेविगेशन ऐंड सोलर टेक्नोलॉजी का अधिग्रहण किया था. इस कंपनी की उत्पादन क्षमता 120 मेगावॉट की है.

इससे पहले कंपनी ने विस्तार के संकेत देते हुए कपड़ा उद्योग में भी हाथ आजमाने के संकेत दिए थे. भारतीय बाजारों में जल्दी ही पतंजलि टी-शर्ट, जीन्स आदि भी मिलने लगेंगे.

देश के उपभोक्ता वस्तुओं के बाजार में पतंजलि का बहुराष्ट्रीय कंपनियों (एमएनसी) के साथ कड़ा मुकाबला है. पिछले साल पतंजलि का कारोबार 5 गुना बढ़कर 10,561 करोड़ रुपए हो गया. जबकि 2014-2015 में यह केवल 2006 करोड़ रुपए था.

कंपनी का टारगेट मार्च 2018 तक बिक्री में 20 हजार से 25 हजार करोड़ रुपए के आंकड़े को पार करना है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi