S M L

नया NPA कम हुआ, आंतरिक तंत्र को मजबूत करने पर ध्यान: PNB

अधिकारियों ने कहा कि उन्होंने 14000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है. जो नीरव मोदी के कथित घोटाले के पहले के अनुमान से अधिक है.

Updated On: Jan 25, 2019 09:53 PM IST

Bhasha

0
नया NPA कम हुआ, आंतरिक तंत्र को मजबूत करने पर ध्यान: PNB

सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने कहा है कि उसकी नई गैर-निष्पादित आस्तियां (एनपीए) नीचे आई हैं और उसने स्थिति से बेहतर तरीके से निपटने के लिए आंतरिक तंत्र को मजबूत किया है.

पीएनबी के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सुनील मेहता ने कहा कि उसने पहले ही हीरा कारोबारी नीरव मोदी से जुड़ी धोखाधड़ी में 14000 करोड़ रुपए का प्रावधान अपने खातों में कर लिया है. अब इसके बाद जो भी वसूली होगी वह उसके मुनाफे में जुड़ेगी. मेहता ने कहा कि नया एनपीए नीचे आ रहा है.

सितंबर 2018 तक पीएनबी की सकल गैर निष्पादित आस्तियां करीब 80000 करोड़ रुपए थीं. अधिकारियों ने कहा कि उन्होंने 14000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है. जो नीरव मोदी के कथित घोटाले के पहले के अनुमान से अधिक है. उन्होंने कहा कि बैंक ने हाल में अमेरिका में नीरव मोदी की कुछ संपत्तियां बेचकर 60 करोड़ रुपए वसूले हैं.

इस बीच अधिकारियों ने कहा कि पीएनबी का सीएलपी केंद्र बैंक की आंतरिक ऋण प्रणाली और प्रक्रियाओं को मजबूत करेगा. ये 50 लाख से 50 करोड़ रुपए तक के ऋण की जांच के विशेष केंद्र हैं. बैंक ने कहा कि इस नए केंद्र से ऋण प्रदान के करने के समय में कमी आएगी, निर्णय प्रक्रिया तेज होगी और ऋण प्रक्रिया में पारदर्शिता आएगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi