S M L

Reflections on Ease of Doing Business: टारगेट कम रखने की माफी नहीं मिलेगी-पीएम मोदी

Updated On: Nov 19, 2018 07:07 PM IST

FP Staff

0
Reflections on Ease of Doing Business: टारगेट कम रखने की माफी नहीं मिलेगी-पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली में 'ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के असर'  पर आयोजित एक समारोह में अपनी नीतियों के बारे में बता रहे हैं. जानिए क्या-क्या कहा प्रधानमंत्री ने-

अपडेट 4

पीएम ने कहा, कॉरपोरेट वाले कहेंगे मोदी जैसे टारगेट फिक्स कर रहे हैं वैसा तो कॉरपोरेट जगत में भी नहीं होता. उन्होंने कहा, गुजरात में बच्चों को सिखाया जाता है कि टारगेट मिस करने की माफी मिल सकती है लेकिन टारगेट कम रखने की माफी मुमकिन नहीं है.

अपडेट 3

पीएम ने कहा, हमारा टारगेट भारत को 5 लाख करोड़ डॉलर के क्लब में पहुंचाने का है. इसके लिए हम ईज ऑफ डूइंग पर फोकस कर रहे हैं. दिसंबर तक हम जो भी पॉलिसी ला सकते हैं लाएंगे, उसका असर अगले साल की रैंकिंग पर नजर आएगा.

अपडेट 2

4 साल के भीतर देश 180 डिग्री तक बदल चुका है. ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में भारत की रैंकिंग 142 से घटकर 77 पर पहुंच गई है. किसी भी देश के लिए यह रिकॉर्ड है.

अपडेट 1 पीएम ने कहा कि पॉलिसी पैरालिसिस का दौर खत्म हो गया है. 2014 से पहले अर्थव्यवस्था पॉलिसी पैरालिसिस और पॉलिसी में अस्थायित्व का दौर था. तब यह सोचना भी नामुमकिन था कि भारत का शुमार ईज ऑफ डूइंग बिजनेस की वर्ल्ड रैंकिंग में टॉप 100 में शामिल हो जाए. पहले पासपोर्ट बनाने का काम 15-20 दिन में होता था. अब यह काम सिर्फ 4-5 दिनों में हो जाता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi