S M L

फिर हुई पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि, दिग्विजय ने कहा- तेल को GST के दायरे में लाइए

वैश्विक बाजार में कच्चे तेल का भाव 4 साल की ऊंचाई पर पहुंच गया है

Updated On: Oct 01, 2018 09:08 AM IST

FP Staff

0
फिर हुई पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि, दिग्विजय ने कहा- तेल को GST के दायरे में लाइए

तेल की आसमान छूती कीमतों के बीच सोमवार को पेट्रोल-डीजल के दामों में फिर से वृद्धि दर्ज की गई है. राजधानी दिल्ली में जहां पेट्रोल की कीमतों में 0.24 पैसे प्रति लीटर तो वहीं डीजल की कीमतों में 0.30 पैसे की वृद्धि दर्ज की गई है.

ऐसे में रविवार तक 83.49 रुपए प्रति लीटर की दर से मिलने वाला पेट्रोल अब 83.73 रुपए प्रति लीटर के दर पर मिलने लगा है. दूसरी तरफ 74.79 रुपए प्रति लीटर की दर पर बिक रहा डीजल अब 75.09 रुपए प्रति लीटर की दर पर बिकने लगा है.

बात अगर राजधानी दिल्ली से इतर मुंबई की करें तो सोमवार को यहां भी पेट्रोल पर 0.24 पैसे और डीजल पर 0.32 पैसे प्रति लीटर की बढ़त दर्ज की गई है. अब मुंबई में पेट्रोल 91.08 रुपए प्रति लीटर और डीजल 79.72 रुपए प्रति लीटर की दर पर मिलने लगा है.

तेल की कीमतें क्यों बढ़ रही हैं?

वैश्विक बाजार में कच्चे तेल का भाव 4 साल की ऊंचाई पर पहुंच गया है. ओपेक देशों के उत्पादन नहीं बढ़ाने के फैसले से क्रूड में उछाल आया है.

सरकारी तेल कंपनियां (इंडियन ऑयल, हिंदुस्तान पेट्रोलियम, भारत पेट्रोलियम) देश भर में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में जारी बढ़ोतरी के लिए अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल (क्रूड ऑयल) की महंगाई और डॉलर के अनुपात में रुपए की गिरती कीमत को जिम्मेदार बता रही हैं.

इस बीच विपक्ष लगातार पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने की मांग कर रही है. विपक्ष का दावा है कि जीएसटी के दायरे में आने के बाद इनकी कीमतों में गिरावट दर्ज की जाएगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi