S M L

पाक का भारत को MFN दर्जा देने से इनकार, कहा- ऐसी कोई योजना नहीं

इमरान खान के सलाहकार अब्दुल रजाक दाऊद ने यह पूछे जाने पर कि क्या सरकार भारत को एमएफएन का दर्जा देन और भारत सरकार के साथ शांति वार्ता बहाल करने पर विचार कर रही है, कहा कि ‘फिलहाल ऐसी कोई योजना नहीं है’

Updated On: Nov 14, 2018 04:13 PM IST

Bhasha

0
पाक का भारत को MFN दर्जा देने से इनकार, कहा- ऐसी कोई योजना नहीं

पाकिस्तान ने भारत को मोस्ट फेवर्ड नेशल (एमएफएन) का दर्जा देने से एक बार फिर इनकार किया है. इमरान खान सरकार ने कहा कि उसका भारत को व्यापार में सबसे तरजीही राष्ट्र का दर्जा देने की अभी कोई योजना नहीं है.

पाकिस्तान के अखबार डॉन के अनुसार प्रधानमंत्री इमरान खान के वाणिज्य, कपड़ा, उद्योग और निवेश पर सलाहकार अब्दुल रजाक दाऊद ने यह पूछे जाने पर कि क्या सरकार भारत को एमएफएन का दर्जा देन और भारत सरकार के साथ शांति वार्ता बहाल करने पर विचार कर रही है, कहा कि ‘फिलहाल ऐसी कोई योजना नहीं है.’

दाऊद ने मंगलवार को लाहौर में एक कार्यक्रम में कहा, ‘फिलहाल हमारी भारत को एमएफएन का दर्जा देने की कोई योजना नहीं है.’ हालांकि, उन्होंने कहा कि पाकिस्तान विभिन्न देशों के साथ मुक्त व्यापार करारों (एफटीए) पर काम कर रहा है, विशेष रूप से चीन के साथ. उन्होंने उम्मीद जताई कि चीन के साथ दूसरा एफटीए जून, 2019 तक पूरा हो जाएगा.

बता दें कि भारत पहले ही पाकिस्तान को एमएफएन देश का दर्जा दे चुका है. मगर पाकिस्तान ने भारत को अभी तक व्यापार में सबसे तरजीही राष्ट्र का दर्जा नहीं दिया है. पाकिस्तान की 1,209 उत्पादों की नकारात्मक सूची है, जिनका आयात भारत से नहीं किया जा सकता.

विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) के नियमों के अनुसार डब्ल्यूटीओ के हर सदस्य को अन्य सदस्य देशों को यह दर्जा देना होता है. पाकिस्तान सहित अन्य सभी सदस्य देशों को भारत यह दर्जा पहले ही दे चुका है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi