S M L

9 सबसे अमीर भारतीयों के पास है देश का 50% धन

वैश्विक स्तर पर अरबपतियों की किस्मत साल 2018 में एक दिन में 12 प्रतिशत या 2.5 बिलियन डॉलर बढ़ी थी जबकि दुनिया की सबसे गरीब आधी आबादी ने अपनी संपत्ति में 11 प्रतिशत की गिरावट देखी थी

Updated On: Jan 21, 2019 04:05 PM IST

FP Staff

0
9 सबसे अमीर भारतीयों के पास है देश का 50% धन

सोमवार को ऑक्सफैम के एक अध्ययन में कहा गया है कि भारतीय अरबपतियों ने पिछले साल एक दिन में 2,200 करोड़ रुपए कमा लिए. इस दिन देश के सबसे अमीर एक प्रतिशत लोग 39 प्रतिशत से अधिक अमीर हो गए थे. न्यूज 18 की खबर के अनुसार वैश्विक स्तर पर अरबपतियों की किस्मत साल 2018 में एक दिन में 12 प्रतिशत या 2.5 बिलियन डॉलर बढ़ी थी जबकि दुनिया की सबसे गरीब आधी आबादी ने अपनी संपत्ति में 11 प्रतिशत की गिरावट देखी थी.

देश के सबसे गरीब 10 प्रतिशत लोग 2004 के बाद से कर्ज में डूबे हुए हैं

ये सभी बातें अंतर्राष्ट्रीय अधिकार समूह ने स्विस स्की रिसॉर्ट शहर में पांच दिवसीय विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की वार्षिक बैठक की शुरुआत से पहले जारी अपने वार्षिक अध्ययन में कहा. ऑक्सफैम ने आगे कहा कि 13.6 करोड़ भारतीय, जो देश का सबसे गरीब 10 प्रतिशत हैं, 2004 के बाद से कर्ज में डूबे हुए हैं. ऑक्सफैम ने दावोस में इकट्ठा हुए राजनीतिक और व्यापारिक नेताओं से दुनिया के अमीरों और शक्तिशाली लोगों की वार्षिक जमाबंदी के लिए बढ़ते अमीर-गरीब विभाजन से निपटने के लिए जरूरी कदम उठाने के लिए कहा.

बढ़ती असमानता गरीबी के खिलाफ लड़ाई को कम कर रही है

ऑक्सफैम ने कहा- यह बढ़ती असमानता गरीबी के खिलाफ लड़ाई को कम कर रही है, अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचा रही है और दुनिया भर में आम लोगों के गुस्से को हवा दे रही है. डब्ल्यूईएफ शिखर सम्मेलन में प्रमुख प्रतिभागियों में से एक ऑक्सफेम इंटरनेशनल के कार्यकारी निदेशक विनी बयानीमा ने कहा- यह नैतिक रूप से अपमानजनक है कि कुछ धनी व्यक्ति भारत के संपत्ति की बढ़ती हिस्सेदारी को स्वीकार कर रहे हैं, जबकि गरीब अपने भोजन या अपने बच्चे की दवाओं का भुगतान करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं.

जेफ बेजोस ने अपनी संपत्ति को 112 बिलियन डॉलर तक बढ़ाया

उन्होंने आगे कहा- यह असमानता जारी रहती है तो यह इस देश की सामाजिक और लोकतांत्रिक संरचना का पूर्ण पतन हो जाएगा. यह देखते हुए कि धन और भी अधिक केंद्रित होता जा रहा है, ऑक्सफैम ने कहा कि 26 लोग अब 3.8 अरब लोगों के समान हैं जो पिछले साल 44 लोगों से नीचे मानवता के सबसे गरीब लोगों को दर्शआ रहे थे. एमेजॉन के संस्थापक दुनिया के सबसे अमीर आदमी जेफ बेजोस ने अपनी संपत्ति को 112 बिलियन डॉलर तक बढ़ाया. बता दें कि उनकी संपत्ति का सिर्फ 1 प्रतिशत 115 मिलियन लोगों के देश इथियोपिया के लिए पूरे स्वास्थ्य बजट के बराबर है.

भारत में हर दिन 70 नए डॉलर करोड़पति पैदा होने का अनुमान है

भारत की शीर्ष 10 प्रतिशत आबादी के पास कुल राष्ट्रीय धन का 77.4 प्रतिशत है. ऑक्सफैम ने कहा कि उच्च स्तर की धन असमानता लोकतंत्र को प्रभावित करती है. वहीं निचले 60 प्रतिशत, अधिकांश आबादी राष्ट्रीय संपत्ति का केवल 4.8 प्रतिशत हिस्सा है. शीर्ष 9 अरबपतियों के धन की जनसंख्या निचले 50 प्रतिशत लोगों के धन के बराबर है. ऑक्सफैम ने कहा कि 2018 और 2022 के बीच, भारत में हर दिन 70 नए डॉलर करोड़पति पैदा होने का अनुमान है. ऑक्सफैम इंडिया के सीईओ अमिताभ बेहार ने कहा- यह (सर्वेक्षण) खुलासा करता है कि कैसे सार्वजनिक सेवाओं को कम करके सरकारें असमानता को बढ़ा रही हैं. स्वास्थ्य सेवा और शिक्षा के रूप में, एक तरफ, निगमों और अमीरों पर कर लगाने के दौरान, और दूसरी ओर कर चकमा देने में नाकाम रहने के लिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi