S M L

लोन डिफॉल्ट के बाद अब देश छोड़कर भागना होगा मुश्किल

मोदी सरकार ने 50 करोड़ रुपए से ज्यादा कर्ज लेने वालों और उनके गारंटरों के पासपोर्ट की पूरी जानकारी मंगाई है

FP Staff Updated On: Mar 15, 2018 03:31 PM IST

0
लोन डिफॉल्ट के बाद अब देश छोड़कर भागना होगा मुश्किल

विजय माल्या, ललित मोदी, नीरव मोदी...एक के  बाद एक कई लोग भारतीय बैंकों को चूना लगाकर देश छोड़ चुके हैं. सरकार ने 91 लोगों की एक लिस्ट बनाई है, जिनके विदेश भागने की आशंका है.

इस लिस्ट में कुछ कंपनियों के डायरेक्टर या मालिकों के नाम हैं जो जान-बूझकर बैंकों का पैसा नहीं लौटा रहे हैं. ब्लूमबर्ग के मुताबिक, सरकार ने जानबूझकर कर्ज ना चुकाने वाली 400 कंपनियों की लिस्ट तैयार की है. इन सभी कंपनियों के खिलाफ सरकार कार्रवाई की तैयारी कर रही है.

सरकार पर है दबाव?

पीएनबी घोटाले के बाद सरकार पर नीरव मोदी और मेहुल चोकसी को गिरफ्तार करने का दबाव है. सरकार ने अब एक ऐसा कानून बनाया है, जिससे लोन लेकर भागने वाले डिफॉल्टर्स की प्रॉपर्टी जब्त की जा सके.  यह कानून उन अपराधियों की नकेल कसेगा जो 100 करोड़ या उससे ज्यादा का कर्ज लेकर विदेश भाग गए हैं.

सूत्रों के मुताबिक मोदी सरकार ने 50 करोड़ रुपए से ज्यादा कर्ज लेने वालों और उनके गारंटरों के पासपोर्ट की पूरी जानकारी मंगाई है. इस बात की संभावना है कि सरकार ऐसे लोगों के विदेश जाने पर रोक लगा दे जो जानबूझ कर कर्ज न चुकाने वालों की लिस्ट में शामिल हों.

क्या ऐसे लोगों के विदेश जाने पर रोक लगा देनी चाहिए? इस सवाल के जवाब में एचडीएफसी बैंक के सीईओ आदित्य पुरी ने कहा, यह अच्छी बात है कि वित्तीय अपराध के आरोपी को विदेश जाने से रोक दिया जाए क्योंकि प्रत्यारोपण के लिए सबूत की जरूरत होती है.

हाल-फिलहाल देश में लोन डिफॉल्ट की कई घटनाएं सामने आई हैं जिसने सरकार को बैकफुट पर ला दिया है. विपक्षी पार्टियां इन मामलों में सख्त और जल्द कार्रवाई की मांग कर रही हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi