S M L

भारत की GDP दस साल में 6000 अरब डॉलर होगी: मॉर्गन स्टेनली

कंपनी ने कहा कि हमारे अनुमान के मुताबिक आने वाले दशक में भारत की सालाना जीडीपी बढ़ोतरी दर 7.1 फीसदी से 11.2 फीसदी के बीच रहेगी

Updated On: Oct 02, 2017 04:47 PM IST

Bhasha

0
भारत की GDP दस साल में 6000 अरब डॉलर होगी: मॉर्गन स्टेनली

भारत अगले दस साल में दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ने वाली बड़ी अर्थव्यवस्था होगा. डिजिटलीकरण, अनुकूल जनसांख्यिकी, वैश्वीकरण और सुधारों के चलते आने वाले दशक में ऐसा संभव हो सकेगा. वैश्विक वित्तीय सेवा कंपनी मॉर्गन स्टेनली ने ऐसी संभावना जताई है.

मॉर्गन स्टेनली के एक शोध नोट के अनुसार भारत की वार्षिक सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) बढ़ोतरी का रूख लगातार आगे बढ़ने वाला रहा है. 1990 के दशक में यह 5.8 फीसदी रहा जो 2000 के दशक में बढ़कर 6.9 फीसदी हो गया. इसी तरह अगले दशक में भी इसके बेहतर रहने की संभावना है.

कंपनी का मानना है कि डिजिटलीकरण से जीडीपी वृद्धि को 0.5 से 0.75 फीसदी की बढ़त मिलेगी. अनुमान है कि 2026-27 तक भारत की अर्थव्यवस्था 6 हजार अरब डॉलर की हो जाएगी.

चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में देश की जीडीपी की वृद्धि दर तीन साल के सबसे निचले स्तर पर आकर 5.7 फीसदी रही है. इसके पीछे अहम कारण नोटबंदी की वजह से विनिर्माण गतिविधियों का दबाव में रहना है.

जानकारों का मानना है कि सुधारों की वजह से पिछला साल भारत की जीडीपी वृद्धि के लिए मुश्किलों वाला रहा है लेकिन मध्यम अवधि में देश की बढ़ोतरी की संभावनाएं बेहतर हैं.

कंपनी ने अपने नोट में कहा कि हमारे अनुमान के मुताबिक आने वाले दशक में भारत की सालाना जीडीपी बढ़ोतरी दर 7.1 फीसदी से 11.2 फीसदी के बीच रहेगी.

इसी प्रकार 2026-27 तक भारत में 120 अरब डॉलर सकल प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) आने की उम्मीद है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi