S M L

मूडीज ने 13 साल बाद सुधारी भारत की रेटिंग, शेयर बाजार में उछाल

मूडीज ने 13 साल बाद बदलाव करते हुए नियंत्रित और पॉजिटिव आउटलुक रखते हुए Baa3 से घटाकर Baa2 कर दी है

FP Staff Updated On: Nov 17, 2017 04:01 PM IST

0
मूडीज ने 13 साल बाद सुधारी भारत की रेटिंग, शेयर बाजार में उछाल

अमेरिकी क्रेडिट रेटिंग एजेंसी द मूडीज ने शुक्रवार को ताजा रैंकिंग जारी की है. ये रेटिंग मूडीज ने 13 साल बाद बदलाव करते हुए नियंत्रित और पॉजिटिव आउटलुक रखते हुए Baa3 से घटाकर Baa2 कर दी है. इसी के साथ शेयर बाजार का बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक में सेंसेक्स खुलते ही 400 अंक का उछल आया.

निवेशकों को मोटे रिटर्न मिलने की आशंका 

एक्सपर्ट्स का मानना है कि इससे देश की इकोनॉमी को तो सहारा मिलेगा और निवेशकों के इन्वेस्टमेंट पर मोटे रिटर्न मिलेंगे. इसके अलावा विदेशी निवेश बढ़ने से देश में रोजगार के नए अवसर बनेंगे.

मूडीज ने ताजा बॉन्ड रेटिंग Baa3 से बढ़ाकर Baa2 कर दी है और आउटलुक भी पॉजिटिव से स्टेबल कर दिया है.

ग्रोथ रफ्तार में बढ़ सकती है तेजी

देश में हो रहे लगातार आर्थिक रिफॉर्म के कारण रेटिंग बढ़ाई गई है. मूडीज का कहना है कि आर्थिक सुधारों से तेज ग्रोथ को बढ़ावा मिलेगा.वित्त वर्ष 2018 में जीडीपी ग्रोथ 6.7 फीसदी और वित्त वर्ष 2019 में 7.5 फीसदी रहना संभव है. वित्त वर्ष 2020 के बाद ग्रोथ की रफ्तार में तेज आ सकती है.

मूडीज के मुताबिक भारत की ग्रोथ उभरते देशों में सबसे अधिक रहेगी.आगे सरकारी कर्ज, वित्तीय घाटे में स्थिरता संभव रह सकती है. वहीं, पीएसयू बैंकों के रीकैपिटलाइजेशन से ग्रोथ बढ़ेगी.

रेटिंग बढ़ने से क्या होगा फायदा?

वीएम पोर्टफोलियो के हेड विवेक मित्तल के अनुसार रेटिंग बढ़ने पर देश की अर्थव्यवस्था के साथ कंपनियों के फंडामेंटल में भी बदलाव आ जाएगा, और कई सेक्टर्स की री-रेटिंग हो सकती है.

रेटिंग बढ़ने से देश को आसानी से कर्ज मिल पाएगा.भारत का व्यापार घाटा कम हो जाएगा.इसके साथ ही भारत में विदेशी निवेश बढ़ जाएगा.

MOODY_RATING

( न्यूज 18 के इनपुट के साथ )

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi