विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

आरकॉम और एयरसेल का नहीं होगा विलय, रद्द हुआ सौदा

रिलायंस कम्युनिकेशंस इस समय काफी कर्ज में डूबा हुआ है. इस सौदे से वो अपने कर्ज में कमी आने की उम्मीद कर रहा था

Bhasha Updated On: Oct 01, 2017 09:52 PM IST

0
आरकॉम और एयरसेल का नहीं होगा विलय, रद्द हुआ सौदा

दूरसंचार कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशंस (आर कॉम) और एयरसेल ने मोबाइल कारोबार के विलय को लेकर समझौता रद्द कर दिया है.

रिलायंस कम्युनिकेशंस ने रविवार को एक प्रेस रिलीज जारी कर कहा, ‘आरकॉम और एयरसेल के मोबाइल कारोबार का विलय सौदा आपसी सहमति से रद्द हो गया है.’ दोनों दूरसंचार कंपनियों ने आर कॉम के मोबाइल कारोबार का एयरसेल के साथ विलय को लेकर सितंबर, 2016 में समझौता किया था.

उद्योगपति अनिल अंबानी की अगुवाई वाली कंपनी ने कहा कि कानूनी और नियामकीय अनिश्चितताएं और निहित स्वार्थ के तहत हस्तक्षेप से प्रस्तावित सौदे के लिए जरूरी मंजूरी प्राप्त करने में काफी देरी हुई.

कंपनी के अनुसार, ‘भारतीय दूरसंचार क्षेत्र में काफी प्रतिस्पर्धा के साथ ताजा नीति संबंधी दिशा-निर्देश से क्षेत्र के लिये बैंक वित्त पोषण पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा था. उक्त कारणों से विलय समझौता रद्द हो गया है. निदेशक मंडल ने इसकी मंजूरी दे दी है.’

Anil Ambani

रिलायंस अनिल धीरूभाई अंबानी समूह के चेयरमैन अनिल अंबानी

रिलायंस कम्युनिकेशंस इस सौदे के बाद कर्ज में कमी आने की उम्मीद कर रहा था. कंपनी के निदेशक मंडल की रविवार को हुई बैठक में रूपांतरण कार्यक्रम की समीक्षा की गई और कर्ज में कमी लाने को लेकर वैकल्पिक योजना पर विचार किया गया.

आर कॉम ने कहा कि वह अपने मोबाइल कारोबार को आगे बढ़ाने के लिए वैकल्पिक योजना पर काम कर रही है. वो 4जी प्रौद्योगिकी पर ध्यान दे रही है.

रिलायंस कम्युनिकेशंस को बैंकों ने कर्ज बाध्यताओं को पूरा करने के लिए दिसंबर, 2017 तक का समय दिया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi