S M L

500 कर्मचारियों को निकाल सकता है जेट एयरवेज

एयरलाइन ने बढ़ती लागत, मुनाफे में कमी और बैलेंस शीट पर प्रेशर के चलते यह फैसला लिया है

FP Staff Updated On: Aug 09, 2018 03:09 PM IST

0
500 कर्मचारियों को निकाल सकता है जेट एयरवेज

जेट एयरवेज ने गंभीर प्रतिक्रिया मिलने के बाद अपने पायलट के वेतन में कटौती करने के फैसले को वापस ले सकता है. इसके बदले कंपनी अपने अन्य स्टाफ में कटौती करने पर विचार कर रही है. इसमें कंपनी ने करीब 500 स्टाफ को पिंक स्लिप जारी करने का फैसला किया है.

फाइनेंशियल एक्सप्रेस के मुताबिक, कंपनी अपने करीब 500 ग्राउंड सर्विस स्टाफ के लिए पिंक स्लिप जारी कर सकती है और कैबिन क्रू और बोइंग और एयरबस फ्लीट की संख्या भी सीमित कर सकती है. जेट एयरवेज के स्टाफ की कुल संख्या 16,558 है. इसमें ग्राउंड स्टाफ 5,000 के आसपास हैं. मतलब जेट अपने स्टाफ की संख्या में 10 प्रतिशत की कटौती कर चाहता है. इन कर्मचारियों का औसतन वेतन 10,000 से 40,000 रुपए प्रतिमाह के बीच में है.

एयरलाइन ने बढ़ती लागत, मुनाफे में कमी और बैलेंस शीट पर प्रेशर के चलते यह फैसला लिया है. फाइनेंशियल एक्सप्रेस के सूत्रों के मुताबिक, एयरलाइन ने सीनियर कैबिन क्रू का कॉन्ट्रैक्ट नहीं बढ़ाने का फैसला किया है.

जेट एयरवेज ने वापस लिया 25 प्रतिशत वेतन कटौती का प्रस्ताव

जेट एयरवेज ने वेतन में 25 प्रतिशत कटौती के प्रस्ताव को वापस ले लिया है. पायलट और इंजीनियरों द्वारा इसका पुरजोर विरोध किया जा रहा था.

वित्तीय संकट की वजह से पूर्ण सेवा देने वाली विमानन कंपनी ने वेतन कटौती करने और लागत कटौती के कुछ अन्य उपाय लागू करने का प्रस्ताव किया था.

सूत्र ने बताया कि एयरलाइन के सीईओ विनय दुबे की कर्मचारियों के समूह के साथ पिछले सप्ताह हुई बैठक में वेतन कटौती प्रस्ताव को वापस लेने का फैसला किया गया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi