S M L

एयर इंडिया में बच्चों के साथ बैठकर सफर करना पड़ेगा महंगा

विमान में मध्य की पंक्ति (मिडिल रो) में साथ-साथ सीट देने के बदले यात्रियों को अब अधिक फी देना होगा. एयर इंडिया ने इसके लिए सर्कुलर जारी किया है

FP Staff Updated On: Apr 17, 2018 03:16 PM IST

0
एयर इंडिया में बच्चों के साथ बैठकर सफर करना पड़ेगा महंगा

सरकारी एयरलाइंस कंपनी एयर इंडिया में अब परिवार के साथ बैठकर सफर करना महंगा होगा. एयर इंडिया ने अपने घरेलू उड़ानों में सीट सेलेक्शन फी या 'फैमिली फी' (कुछ देशों में इसे इसी नाम से जाना जाता है) के नाम पर अधिक चार्ज वसूल करने का सर्कुलर जारी किया है.

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के अनुसार एयर इंडिया विमान में मध्य की पंक्ति (मिडिल रो) में साथ-साथ सीट देने के बदले यात्रियों से अधिक फी वसूल करेगा. अभी तक यह केवल लंबी दूरी की उड़ानों पर सामने वाली पंक्ति की सीटों के लिए लिया जाता था.

एयर इंडिया की तरफ से हाल ही में ट्रैवल एजेंटों को जारी किए गए सर्कुलर में मध्य की पंक्ति में भी सीट सेलेक्शन का ऑप्शन देने को कहा गया है ताकि अपने बच्चों के साथ में बैठकर सफर करने की इच्छा रखने वाले यात्रियों से अधिक फीस वसूला जा सके.

घरेलू और विदेशी उड़ानों में फैमिली सीट के लिए अलग-अलग दरें

मध्य की पंक्ति में फैमिली सीट के लिए घरेलू और विदेशी उड़ानों की दरें अलग-अलग रखी गई हैं. इनकी दरें रुट्स के हिसाब से दरें तय की गई हैं. मध्य की पंक्ति में फैमिली सीट बुक कराने के लिए रूट के मुताबिक यात्रियों को 100 से 1500 रुपए तक अधिक फी चुकाना पड़ सकता है. विंडो सीट के लिए भी ज्यादा फी वसूलने का नियम है.

घाटे से जूझ रहा एयर इंडिया ऐसा कर अपनी आय बढ़ाना चाहता है. सीट सेलेक्शन का यह फार्मूला नया नहीं है. दुनिया के कई देशों में एयरलाइंस कंपनियां ऐसा करती हैं. इस नए नियम के लागू होने के बाद जो लोग अपने बच्चों के साथ सफर करते हैं उनके पास एक साथ बैठने के लिए अधिक फी चुकाने के अलावा कोई विकल्प नहीं होगा.

बता दें कि एयर इंडिया कर्ज के भारी-भरकम बोझ तले ऑपरेट कर रहा है. इस समस्या को दूर करने के लिए सरकार ने पिछले दिनों एयर इंडिया के निजीकरण को मंजूरी दे दी है. सरकार एयर इंडिया में अपनी 76 प्रतिशत हिस्सेदारी निजी क्षेत्र के किसी चुनिंदा खरीदार को बेचने का निर्णय कर चुकी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi