S M L

तीसरी तिमाही में इंफोसिस के मुनाफे 38.3% की बढ़ोतरी

कंपनी ने बंबई शेयर बाजार को बताया कि अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के दौरान उसका राजस्व 17,273 करोड़ रुपए की तुलना में तीन प्रतिशत बढ़कर 17,794 करोड़ रुपए पर पहुंच गया

Updated On: Jan 12, 2018 11:05 PM IST

Bhasha

0
तीसरी तिमाही में इंफोसिस के मुनाफे 38.3% की बढ़ोतरी

देश की दूसरी बड़ी सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) कंपनी इंफोसिस का ओवरऑल मुनाफा चालू वित्त वर्ष की दिसंबर में समाप्त तीसरी तिमाही में 38.3 प्रतिशत बढ़कर 5,129 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है. पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में यह 3,708 करोड़ रुपए रहा था.

कंपनी ने बंबई शेयर बाजार को बताया कि अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के दौरान उसका राजस्व 17,273 करोड़ रुपए की तुलना में तीन प्रतिशत बढ़कर 17,794 करोड़ रुपए पर पहुंच गया.

कंपनी ने वित्त वर्ष 2017-18 के लिए राजस्व वृद्धि 5.5 से 6.5 प्रतिशत रहने का अनुमान व्यक्त किया है.

इंफोसिस ने बताया कि दिसंबर तिमाही के दौरान उसने अमेरिकी प्रशासन के साथ अग्रिम मूल्यनिर्धारण अनुबंध किया है जिससे उसे 1,432 करोड़ रुपए के कर प्रावधानों से छूट मिली.

उसने कहा, ‘इसी कारण आलोच्य तिमाही के दौरान मुनाफा बढ़ा है तथा प्रतिशेयर मूल लाभ बढ़कर 6.29 रुपए हो गया है.’ सलिल पारेख के कंपनी के नए मुख्य कार्यकारी अधिकारी और प्रबंध निदेशक बनाए जाने के बाद यह कंपनी का पहला तिमाही परिणाम है.

पारेख ने कहा, ‘हमारा तीसरी तिमाही का प्रदर्शन मजबूत रहा है. हम स्थिरता की ओर बढ़ रहे हैं और नये क्षेत्रों में उपभोक्ताओं की जरूरतें पूरी करने की स्थिति हासिल कर रहे हैं.’ दिसंबर तिमाही के अंत तक कंपनी के कुल कर्मचारियों की संख्या 2.01 लाख रही.

इंफोसिस ने बताया कि उसके प्रेजिडेंट राजेश के. मूर्ति ने निजी कारणों से पद से इस्तीफा दे दिया है और वह 31 जनवरी 2018 तक ही कंपनी से जुड़े रहेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi