S M L

18 जुलाई को नए सिरे से होगी 'होटल ताज मानसिंह' की नीलामी

एनडीएमसी ने इस संपत्ति के लिए 18 जुलाई को नए सिरे से नीलामी बोली कराने का फैसला किया है

Updated On: Jun 24, 2018 04:56 PM IST

Bhasha

0
18 जुलाई को नए सिरे से होगी 'होटल ताज मानसिंह' की  नीलामी

राजधानी दिल्ली के प्रसिद्ध ताज मानसिंह होटल की नीलामी का पहला प्रयास विफल होने के बाद अब नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) ने इस संपत्ति के लिए 18 जुलाई को नए सिरे से नीलामी कराने का फैसला किया है.

होटल के लिए नीलामी इसी महीने पूरी होनी थी लेकिन टाटा समूह की इंडियन होटल्स कंपनी लि. (आईएचसीएल) जो कि इस होटल की मौजूदा परिचालक है उसने ही संपत्ति को अपने पास बनाए रखने के लिए बोली लगाई. एक अन्य कंपनी आईटीसी की बोली को तकनीकी आधार पर स्वीकार नहीं किया गया. इसलिए नीलामी को निरस्त कर दिया गया. एनडीएमसी ने पिछले सप्ताह ई - नीलामी को रद्द करने का नोटिस जारी किया था.

नोटिस में कहा गया, 'संपत्ति के लिए तीन से कम बोलियां मिलीं. नियमों के तहत ई - नीलामी के दूसरे चरण में तीन तकनीकी रूप से पात्र बोलीदाताओं की बोलियां होना जरूरी हैं. ऐसे में नीलामी प्रक्रिया को रद्द किया जाता है.'

ताज मानसिंह होटल को टाटा समूह की कंपनी इंडियन होटल्स कंपनी को 1978 में 33 साल के पट्टे पर दिया गया था, जो 2011 में समाप्त हो गया. उसके बाद कंपनी को नौ बार अस्थायी तौर पर संपत्ति के परिचालन का विस्तार दिया गया. लेकिन एनडीएमसी उस समय इस संपत्ति की नीलामी नहीं कर पाई क्योंकि वह आईएचसीएल के साथ कानूनी लड़ाई में उलझी थी.

अब एनडीएमसी इसकी नीलामी के लिये नए सिरे से बोलियां आमंत्रित करेगी. संभावित बोलीदाताओं के लिये 16 से 22 जून के दौरान होटल को उनके निरीक्षण के लिये खोला गया था. एनडीएमसी कल बोली से पूर्व बैठक आयोजित करेगी और बोलियां देने की अंतिम तारीख 9 जुलाई होगी.

ताजा बोली प्रक्रिया में भी न्यूनतम तीन पात्र बोलीदाता का नियम रखा गया है. पट्टे की अवधि भी 33 साल की होगी, इसमें भी कोई बदलाव नहीं किया गया है. इसी तरह बोली लगाने के लिए 25 करोड़ रुपए की सुरक्षा राशि में भी कोई बदलाव नहीं किया गया है.

टाटा समूह इससे पहले इसी सप्ताह हुई नीलामी में एनडीएमसी से 'दि कनाट होटल' का अधिग्रहण कर चुका है. स्थानीय निकाय ने एक अन्य होटल 'होटल एशियन इंटरनेशनल' की भी नीलामी की जिसे ब्लूम हास्पिटेलिटी समूह ने हासिल किया. एनडीएमसी ने पिछले साल होटल कनाट और एशिया इंटरनेशनल की नए सिरे से नीलामी का फैसला किया था. लाइसेंस फीस नहीं चुकाए जाने की वजह से इन होटलों को 2015 में सील कर दिया गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi