S M L

सुरक्षा में सेंध: हैकरों ने करोड़ों उबर यूजर्स, ड्राइवरों का डाटा चुराया

साल भर से छुपी इस बात के लिए उबर ने हैकरों से डाटा नष्ट कराने के लिए एक लाख डॉलर का भुगतान किया है

Updated On: Nov 22, 2017 05:22 PM IST

Bhasha

0
सुरक्षा में सेंध: हैकरों ने करोड़ों उबर यूजर्स, ड्राइवरों का डाटा चुराया

एप आधारित टैक्सी बुकिंग सर्विस देने वाली कंपनी उबर ने कहा कि हैकरों ने उसके मंच पर जुड़े 5.7 करोड़ यूजर्स और ड्राइवरों का निजी डाटा चुराया है. एक साल से छुपी इस बात के लिए उबर ने हैकरों से डाटा नष्ट कराने के लिए एक लाख डॉलर का भुगतान किया है.

कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) दारा खोसरोवशही ने एक बयान में कहा, ‘ऐसा कुछ भी नहीं होना चाहिए था और मैं इसके लिए कोई बहाने नहीं बनाउंगा’. खोसरोवशही के अनुसार उबर सूचना सुरक्षा दल के दो सदस्यों को मंगलवार को तुरंत प्रभाव से कंपनी से निकाल दिया गया है. इन दोनों ने समय पर यूजर्स को जानकारी नहीं दी कि उनका डाटा चुराया गया है.

उबर के सीईओ ने कहा कि उन्हें हाल ही में केवल इतना पता चला है कि किसी बाहरी व्यक्ति ने कंपनी द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले क्लाउड सर्वर की सुरक्षा में सेंध लगाकर बड़ी मात्रा में डाटा डाउनलोड कर लिया.

उबर के मुताबिक चुराई गई सूचना में यूजर्स के नाम, ई-मेल पते, मोबाइल नंबर और लगभग 6 लाख ड्राइवरों के नाम और उनके लाइसेंस नंबर हैं.

इससे जुड़े एक सूत्र ने बताया कि हैकरों से डाटा नष्ट कराने के लिए उबर ने एक लाख डॉलर का भुगतान किया है. इस संबंध में यूजर्स और ड्राइवरों को जानकारी नहीं दी गई कि उनका डाटा खतरे में है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi