S M L

जीएसटी दरों में बदलाव करने की जरूरत: अधिया

जीएसटी काउंसिल की 23वीं बैठक 10 नवंबर को गुवाहाटी में होने वाली है

Updated On: Oct 22, 2017 06:36 PM IST

Bhasha

0
जीएसटी दरों में बदलाव करने की जरूरत: अधिया

जीएसटी लागू होने के बाद से ही छोटे-मझोले कारोबारियों में काफी निराशा है. जीएसटी के दरों में बदलाव की बात कई लोग कर चुके हैं. लेकिन अब रेवेन्यू सेक्रेटरी हसमुख अधिया ने भी जीएसटी की दरों में बदलाव की बात कह दी है. उन्होंने कहा है कि टैक्स रेट्स में बदलाव करके छोटे मझोले कारोबारों पर टैक्स का बोझ कम कर सकते हैं.

अधिया ने कहा कि एक्साइज ड्यूटी, सर्विस टैक्स और वैट जैसे दर्जनों भर केंद्रीय और राजकीय करों को खत्म करने वाले जीएसटी को स्थिर होने में एक साल का वक्त लग सकता है.

कई मुश्किलें बरकरार

चार महीने पहले लागू हुए जीएसटी में अभी भी कई समस्याएं आ रही हैं. जीएसटी के नियमों को मानना कारोबारियों के लिए काफी मुश्किल हो रहा है. इन मुश्किलों को दूर करने के लिए जीएसटी काउंसिल कई बार बदलाव कर चुकी है. जीएसटी काउंसिल ने हाल ही में 100 से ज्यादा कमोडिटीज की कीमतों में बदलाव किया है और निर्यातकों के लिए रिफंड प्रोसेस को आसान बनाया है.

अधिया ने कहा, 'जीएसटी में टैक्स रेट्स में बड़े सुधार की जरूरत है. ऐसा भी संभव है कि एक चैप्टर में दिए गए गुड्स अलग-अलग टैक्स रेट में आ गए हों. हमें चैप्टर के हिसाब से वस्तुओं पर नजर डालनी चाहिए और यह देखा जाना चाहिए कि छोटे और मझोले कारोबारियों पर बोझ ज्यादा न हो. अगर ऐसा पाया जाता है कि इन पर और आम आदमी पर टैक्स का बोझ है तो उसे कम किया जाना चाहिए. इससे जीएसटी की स्वीकार्यता बढ़ेगी.' जीएसटी काउंसिल की 23वीं मीटिंग वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में 10 नवंबर को गुवाहाटी में होनी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi